ISL 5 : बेंगलुरू का अजेय क्रम बरकरार, नार्थईस्ट को 1-1 पर रोका

ISL 5 :  बेंगलुरू का अजेय क्रम बरकरार, नार्थईस्ट को 1-1 पर रोका

Siddharth Rai | Publish: Dec, 06 2018 09:56:01 AM (IST) फ़ुटबॉल

पिछले सीजन की उप-विजेता बेंगलुरू इस सीजन में अभी तक एक भी मैच हारी नहीं है। नार्थईस्ट के पास मौका था कि वह बेंगलुरू को हार का स्वाद चखाए लेकिन चेंचो गेल्टशेन द्वारा इंजुरी टाइम में किए गए गोल ने उससे यह मौका छीन लिया।

नई दिल्ली। बेंगलुरू एफसी ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में बुधवार को मेजबान नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी को आखिरी लम्हों में किए गए गोल के दम पर 1-1 से बराबरी पर रोक सीजन में अपना अजेय क्रम बरकरार रखा है। पिछले सीजन की उप-विजेता बेंगलुरू इस सीजन में अभी तक एक भी मैच हारी नहीं है। नार्थईस्ट के पास मौका था कि वह बेंगलुरू को हार का स्वाद चखाए लेकिन चेंचो गेल्टशेन द्वारा इंजुरी टाइम में किए गए गोल ने उससे यह मौका छीन लिया।

फ्रेडेरिको गालेगो के 64वें मिनट में किए गए गोल के दम पर नार्थईस्ट ने 1-0 की बढ़त ले ली थी और बेंगलुरू को इस सीजन की पहली हार के समीप ला कर खड़ा कर दिया था, लेकिन इंजुरी टाइम में चेंचो ने गोल कर नार्थईस्ट के अरमानों पर पानी फेर दिया।

इस ड्रॉ के बाद बेंगलुरू ने न सिर्फ इस सीजन की पहली हार को टाला बल्कि अंकतालिका में पहले स्थान पर अपनी स्थिति को मजबूत भी कर लिया। इस मैच में मिले एक अंक की बदौलत बेंगलुरू नौ मैचों में सात जीत, दो ड्रॉ के साथ 23 अंक लेकर पहले स्थान पर कायम है। वहीं हाइलैंर्ड्स के नाम से मशहूर नार्थईस्ट के अब 10 मैचों में पांच जीत, चार ड्रॉ और एक हार के साथ 19 अंक हो गए हैं और वह दूसरे स्थान पर कायम है।

मैच की शुरुआत धीमी हुई लेकिन पवन कुमार की एक गलती शुरुआत में नार्थईस्ट पर भारी पड़ सकती थी। 11वें मिनट में उनके पास गेंद आई। जल्दी करने के बजाए पवन ने गेंद को कुछ ज्यादा समय तक अपने पास रखा। बेंगलुरू के कप्तान सुनील छेत्री ने चतुराई दिखाते हुए गेंद को छीन लिया। यह पवन की किस्मत ही थी कि छेत्री चूक गए और गेंद गोल किक के लिए चली गई।

दो मिनट बाद बेंगलुरू के शानदार गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने अच्छा बचाव करते हुए नार्थईस्ट के स्टार बार्थोलोमेव ओग्बेचे के कॉर्नर पर लिए गए हैडर को बचा मेजबान टीम को बढ़त लेने से रोक दिया।

31वें मिनट में रेफरी का एक अजीब फैसला सामने आया। प्रोवाट लाकड़ा ने ओग्बेचे को दाईं तरफ से गेंद दी। ओग्बेचे इस समय ऑफसाइड थे। ओग्बेचे जानते थे कि वह ऑफ साइड हैं लेकिन लाइनमैन ने झंडा नहीं दिखाया। अल्बर्ट सेरान के पास गेंद पहुंची जिन्होंने उसे गुरप्रीत को पास दिया। इसी बीच ओग्बेचे ने खलल डालते हुए गेंद को नेट में डाल दिया लेकिन रेफरी ने यहां झंडा उठा दिया और ओग्बेचे ऑफ साइड करार दे दिए गए।

दोनों टीमों से इस मुकाबले में कड़ी प्रतिस्पर्धा की उम्मीद थी। दोनों टीमें शानदार फॉर्म में हैं और इसी कारण मैच काफी टाइट रहा। पहले हाफ में इसी कारण गोल नहीं हो सका।

पहले हाफ में नार्थईस्ट की ओर से ओग्बेचे सबसे ज्यादा सक्रिय खिलाड़ी थे। नाइजीरिया के इस खिलाड़ी ने दूसरे हाफ में भी अपना खेल जारी रखा। इसी क्रम में 54वें मिनट में उन्होंने गोल करने की कोशिश की जिसे ब्लॉक कर दिया गया।

बेंगलुरू ओग्बेचे पर ध्यान देती रह गई और इस बीच गालेगो नार्थईस्ट के लिए गोल कर गए। इसमें हालांकि ओग्बेचे का ही हाथ रहा। ओग्बेचे ने बेंगलुरू के डिफेंडर को अपनी तरफ उलझा कर गेंद गालेगो को दी। गालेगो ने मौका देख गेंद को नेट में भेज नार्थईस्ट के 1-0 से आगे कर दिया।

इस सीजन की पहली हार की तरफ बढ़ रही बेंगलुरू के कार्लस कुआड्राट ने 71वें मिनट में सेरान को बाहर बुला चेंचो को मैदान पर भेजा।

आखिरी लम्हों तक लग रहा था कि नार्थईस्ट, बेंगलुरू पर अपनी पहली जीत कर लेगी, लेकिन चेंचो ने इंजुरी टाइम में गोल कर पूरे स्टेडियम को स्तब्ध कर दिया। यह गोल करने में चेंचो की मदद बेंगलुरू के कप्तान छेत्री ने की। छेत्री के पास जैसे ही गेंद पहुंची उन्होंने तुरंत चेंचो को दी, जिन्होंने गेंद को गोलपोस्ट के भीतर भेज मैच बराबरी पर खत्म किया।

 

Ad Block is Banned