ISL-5 : पहली बार बेंगलूरु एफसी ने खिताब पर कब्जा जमाया, अतिरिक्त समय में गोवा को हराया

ISL-5 : पहली  बार बेंगलूरु एफसी ने खिताब पर कब्जा जमाया, अतिरिक्त समय में गोवा को हराया

Mazkoor Alam | Publish: Mar, 17 2019 10:53:41 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • राहुल भेके ने दागा विजयी गोल
  • पहले दोनों हाफ रहे गोलरहित बराबरी पर
  • अतिरिक्त समय के पहले हाफ में भी नहीं हुआ गोल

मुंबई : बेंगलूरु एफसी ने एफसी गोवा को फाइनल में 1-0 से हराकर पहली बार हीरो इंडियन सुपर लीग के खिताब पर कब्जा जमाया। मुम्बई फुटबॉल एरेना में खेले गए खिताबी भिड़ंत में अतिरिक्त समय तक चले मुकाबले में राहुल भेके के 116वें मिनट में डिमास डेल्गाडो के लिए गए कॉर्नर पर हेडर के जरिए दागे गए गोल की बदौलत आइएसएल-5 के खिताब पर बेंगलूरु एफसी ने कब्जा जमाया। इस सीजन में बेंगलूरु की यह गोवा पर लगातार तीसरी जीत है। गोवा इस बार बेंगलूरु से पूरे टूर्नामेंट के दौरान एक भी मैच नहीं जीत सकी।
बेंगलूरु की टीम पिछले साल भी फाइनल में पहुंची थी, लेकिन तब चेन्नइयन एफसी के हाथों हार कर उसे निराश होना पड़ा था। जबकि एफसी गोवा की बात करें तो वह दो बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचा है। पहली बार वह 2015 में पहुंचा था, तब भी उसे निराशा हाथ लगी थी। तब चेन्नइयन एफसी ने उसे हरा दिया था।

10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही थी गोवा
अतिरिक्त समय के पहले हाफ से ठीक पहले गोवा के अहमद जाहो को रेफरी ने दूसरा पीला कार्ड दिखाया था। इस वजह से वह अतिरिक्त समय के दूसरे हाफ में सिर्फ 10 खिलाड़ियों के साथ उतरी थी। इसी का फायदा उठाकर बेंगलूरु ने उसके खिलाफ गोल दाग दिया।

पहला हाफ गोलरहित बराबरी पर रहा
पहला हाफ गोलरहित बराबरी पर समाप्त हुआ। इक्के-दुक्के मौकों को छोड़ दिया जाए तो दोनों टीमों ने अपने डिफेंस पर ज्यादा ध्यान दिया। किसी ने बड़ा मूव बनाने की कोशिश नहीं की। इस हाफ में बेंगलूरु के छह शॉट्स ऑफ टारगेट पर रहे तो गोवा के तीन। कोई भी टीम गेंद जाल में उलझा नहीं पाई। पहले हाफ में गोवा के कप्तान मंडार राव देसाई को हैमस्ट्रिंग के कारण मैदान छोड़ना पड़ा। उनकी जगह सेवियोर गामा मैदान पर उतरे। इस हाफ में गोवा के मोउतोर्दा फाल को एक पीला कार्ड भी मिला।

दूसरे हाफ में भी दोनों टीमें नहीं कर सकीं गोल
दूसरे हाफ के 47वें मिनट में गोवा के अहमद जाहो और 51वें मिनट में बेंगलूरु के अलेजांद्रो गार्सिया को पीला कार्ड देखना पड़ा। 62वें मिनट में बेंगलूरु के डिमास डेल्गाडो को भी पीला कार्ड मिला। दूसरे हाफ में गोवा ने बेहतर खेल दिखाया। उसके तीन शॉट्स ऑन टारगेट रहे। बॉल पजेशन भी ज्यादा रखा, लेकिन वह गोल करने में कामयाब नहीं हो सका।

अतिरिक्त समय में बेंगलूरु ने दागा गोल
अतिरिक्त समय मे दोनों टीमें थकी नजर आईं। मैच का निर्णायक प्वाइंट 105वां मिनट साबित हुआ, जब मीकू पर प्रहार करने के कारण जाहो को पीला कार्ड मिला और वह मैदान से बाहर हो गए। हालांकि मीकू को भी पीला कार्ड मिला, लेकिन यह उनका पहला पीला कार्ड था, इसलिए वह मैदान पर बने रहे। इस तरह अतिरिक्त समय का पहला हाफ भी गोलरहित बराबरी समाप्त हुआ।
जब ऐसा लग रहा था कि मैच पेनाल्टी शूटआउट तक पहुंच जाएगा, तभी 116वें मिनट में भेके ने एक सटीक हेडर के जरिए गोल कर बेंगलूरु के खाते में पहला खिताब डाल दिया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned