किंग्स कप में भारतीय फुटबॉल टीम ने थाईलैंड को हराया, तीसरे नंबर पर रहा भारत

किंग्स कप में भारतीय फुटबॉल टीम ने थाईलैंड को हराया, तीसरे नंबर पर रहा भारत

| Publish: Jun, 08 2019 07:58:25 PM (IST) | Updated: Jun, 08 2019 09:30:54 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • भारतीय फुटबॉल प्रेमियों के लिए अच्छी खबर
  • किंग्स कप में भारत ने थाईलैंड को हराया
  • तीसरे नंबर पर रही भारतीय फुटबॉल टीम

 

 

नई दिल्ली। थाईलैंड के बुरिराम से भारतीय फुटबॉल प्रेमियों के लिए अच्छी आई है। इंडियन फुटबॉल टीम ने चांग एरेना में खेले गए किंग्स कप के अंतिम मैच में मेजबान थाईलैंड को 1-0 मात दी है। मेजबानों को मात देने के बाद भारतीय फुटबॉल टीम ने इस टूर्नामेंट में तीसरे स्थान पर रहकर अपना सफर खत्म किया। भारत के लिए अनिरुद्ध थापा ने गोल किया। उनके अलावा दोनों टीमों का कोई अन्य खिलाड़ी गोल करने में कामयाब नहीं हो सका।

किंग्स कप में भारत टीम तीसरे स्थान पर रही

किंग्स कप में भारत की शुरूआत उम्मीद के मुताबिक नहीं रही थी, पहले मैच में टीम इंडिया को कुराकाओ की टीम ने 3-1 से हराया था। भारतीय फुटबॉल टीम के प्रदर्शन के हिसाब से देखा जाए तो 42 साल पहले भी भारतीय टीम ने किंग्स कप में तीसरे स्थान पर ही अपना सफर खत्म किया था।

इगोर स्टीमाक के आने के बाद टीम की पहली कामयाबी

भारतीय टीम के हेड कोच इगोर स्टीमाक के आने के बाद टीम को यह पहली कामयाबी मिली है। इगोर स्टीमाक को कोच बनाने के पीछे भारतीय फुटबॉल संघ का लक्ष्य टीम इंडिया के प्रदर्शन को सुधारना है, जिसके तहत भारत के हेड कोच ने मास्टर प्लान के तहत टीम में बड़े बदलाव करके टीम के कप्तान सुनील छेत्री समेत कुल आठ खिलाड़ियों को बाहर कर दिया। कप्तान छेत्री के बाहर होने के बाद केरला ब्लास्टर्स के डिफेंडर संदेश झिंगन को टीम का नया कप्तान बनाया गया।

नये हेड कोच ने 8 नये खिलाड़ियों को दिया मौका

भारत के नये नवेले कोच स्टीमाक ने अमरिंदर सिंह, आदिल खान, अनिरुद्ध थापा, विनीत राय, रेनियर फर्नांडिस, अमरजीत सिंह, बलवंत सिंह और फारूख चौधरी को टीम में शामिल किया। आठों ही खिलाड़ियों ने कोच के फैसले पर खरा उतरते हुए टूर्नामेंट में भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन किया।

भारत ने 17 वें मिनट में किया गोल

मैच में कुछ करने के लक्ष्य के साथ उतरे भारतीय खिलाड़ियों ने अंग्रेजी की कहावत अटैक इज बेस्ट दैन डिफेंस को चरितार्थ करके हुए शुरू से ही आक्रमक खेल खेला। भारत ने पहले मिनट से ही अच्छा खेल दिखाते हुए मेजबान थाईलैंड की मिडफील्ड और डिफेंस पर दबाव बनाने की कोशिश शुरु की। आक्रमक खेल रही टीम इंडिया को मैच के 17 वें मिनट में पहली कामयाबी मिली। टीम इंडिया ने विंग से हमला करते हुए डिफेंडर आदिल खान के क्रॉस पर डिफ्लैक्शन के जरिए थापा ने मैच का पहला और अंतिम गोल किया।

थाईलैंड के कप्तान की गोल करने की कोशिश हुई बेकार

भारत के पहले गोल के बाद थाईलैंड की टीम ने मैच में अपनी रणनीति बदलते हुए गेंद पर अधिक नियंत्रण रखना शुरू कर दिया। थाईलैंड के कप्तान तीरासलि डांगडा ने मैच के 22वें मिनट में 18 गज के बॉक्स के अंदर से गोल करके अपनी टीम को लगभग बराबरी पर ला दिया था, लेकिन रेफरी ने उसे ऑफ साइड करार दे दिया।

भारत ने नहीं करने दी बराबरी

पहले हाफ में कई असफल प्रयास करने के बाद मेजबान टीम को गोल करने के कई मौके मिले, लेकिन मैच में सब कुछ झोंकने के इरादे से उतरे आदिल खान ने दमदार टैकल करते हुए मेजबान टीम को कोई भी गोल नहीं करने दिया। वहीं इंजरी टाइम में भारतीय टीम की गलती के चलते बढ़त को दोगुना करने का मौका यूं ही जाता रहा। फारूख चौधरी वन ऑन वन की स्थिति में होते हुए भी गोल नहीं कर सके।

चोटिल होकर मैदान से बाहर गए सुपहान थौंगसोंग

पहले हॉफ के रोमांचक मुकाबले के बाद दूसरे हॉफ में दोनों टीमों में कड़ी टक्कर होना स्वाभाविक थी, मैच के 55वें मिनट में थाईलैंड ने दाएं विंग से गोल करने की कोशिश की, लेकिन गोलकीपर अमरिंदर सिंह ने अच्छा बचाव करते थाईलैंड को बराबरी पर आने से रोक दिया। वहीं मैच का 68वां मिनट मेजबान के टीम के लिए दुस्वप्न की तरह रहा, जब चोटिल होने होकर सुपहान थौंगसोंग को मैदान छोड़ना पड़ा। सुपहान थौंगसोंग के जाने के बाद मेहमान भारत को थोड़ी राहत की उम्मीद थी, लेकिन थाईलैंड टीम के हमलों में कोई कमी नहीं आई। इस साल थाईलैंड के खिलाफ भारत अच्छा प्रदर्शन रहा है, मेजबान टीम के खिलाफ टीम इंडिया ने दूसरी जीत हासिल की है। इसी साल की शुरुआत में हुए एएफसी एशियन कप में भारत ने थाईलैंड को 4-1 से हराया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned