किंग्स कप फुटबॉल : कुराकाओ के खिलाफ भारत का पलड़ा भारी, कोच इगोर स्टीमाक की पहली परीक्षा

किंग्स कप फुटबॉल : कुराकाओ के खिलाफ भारत का पलड़ा भारी, कोच इगोर स्टीमाक की पहली परीक्षा

Mazkoor Alam | Publish: Jun, 04 2019 06:20:21 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • कोच इगोर स्टीमाक के निर्देशन में पहली बार किसी टूर्नामेंट में उतरेगा भारत
  • अनुभवी फॉरवर्ड सुनील छेत्री कर रहे हैं टीम की अगुवाई
  • 1977 के बाद भारत पहली बार खेल रहा है किंग्स कप में

बुरिराम : 5 जून से शुरू हो रहे थाईलैंड में चार देशों का फुटबॉल टूर्नामेंट किंग्स कप के पहले मैच में बुधवार को यहां चांग एरेना में भारत का सामना कैरेबियाई द्वीप कुराकाओ से होगा। इस टूर्नामेंट में दो अन्य टीमें मेजबान थाईलैंड और वियतनाम की है। बुधवार को इन दोनों के बीच भी मुकाबला खेला जाएगा।

नए कोच इगोर स्टीमाक की पहली परीक्षा

भारतीय फुटबॉल टीम के नए कोच इगोर स्टीमाक की यह पहली परीक्षा है। उनके मागदर्शन में भारत अपना पहला टूर्नामेंट खेलने जा रहा है। कोच अपनी पारी की शुरुआत जीत के साथ करना चाहेंगे। भारतीय टीम की कमान कप्तान सुनील छेत्री के हाथ में है।
क्रोएशिया के स्टीमाक ने एशियन कप के बाद इस्तीफा देने वाले इंग्लैंड के स्टीफन कांस्टेनटाइन की जगह टीम के कोच का पद संभाला है।

1977 के बाद पहली बार किंग्स कप में भारत

किंग्स कप में इससे पहले भारत 1977 में खेला था। तब उसे टूर्नामेंट में तीसरा स्थान हासिल हुआ था। इस बार भारत के पास टूर्नामेंट जीतने का मौका है, क्योंकि फुटबॉल रैंकिंग में कुराकाओ द्वीप को छोड़कर सारी टीमों की स्थिति लगभग एक जैसी है। भारत 101वें स्थान पर है तो वियतनाम उससे तीन स्थान ऊपर 98वें स्थान पर है, जबकि थाईलैंड 114वें पायदान पर है। कुराकाओ इन सबसे पीछे 134वें स्थान पर है।

पहला मैच जीतने वाली टीम फाइनल में जाएगी

इस टीम का फॉर्मेट राउंड रोबिन लीग की तरह नहीं है। टूर्नामेंट में पहला मैच जीतने वाली दो टीमें सीधे फाइनल में पहुंच जाएगी, जबकि हारने वाली टीमें आपस में तीसरे स्थान के लिए खेलेगी। यहां प्रशंसकों में इस टूर्नामेंट को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है। इस वजह से मैच से पहले ही सारी टिकटें बिक चुकी हैं।

पहले मैच में भारत का मुकाबला कुराकाओ से

पहले मैच में भारत का मुकाबला कुराकाओ से है। इस मैच में भारत का पलड़ा भारी नजर आ रहा है। बस केवल खतरा इस बात का है कि नए कोच के मार्गदर्शन में ऑफ सीजन से वापस आ रहे भारतीय खिलाड़ियों को अपना शीर्ष फॉर्म हासिल करने में समय लग सकता है।
यह मैच भारतीय समयानुसार दोपहर 2 बजे से खेला जाएगा और इसका प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स-3 तथा हॉटस्टार पर किया जाएगा।

वर्ल्ड कप क्वालिफायर्स से पहले भारत को खेलने हैं पांच मैच

फीफा वर्ल्ड कप क्वालिफायर्स से पहले भारत को पांच मैच खेलने हैं। किंग्स कप के बाद भारतीय टीम को इंटरकॉन्टिनेंटल कप में खेलना है। इसके बाद वह सितंबर में फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर्स मुकाबले में खेलेगी।
थाईलैंड रवाना होने से पहले कप्तान सुनील छेत्री ने कहा था कि स्टीमाक के मार्गदर्शन में पहले पांच मैचों में हम कुराकाओ, वियतनाम या थाईलैंड, उत्तर कोरिया, ताजिकिस्तान और सीरिया के खिलाफ खेलेंगे। ये काफी अच्छे मुकाबले होंगे। विश्व कप क्वालिफायर्स से पहले पिछली बार उनकी टीम को पांच टीमों के खिलाफ लगातार मुकाबले खेलने को नहीं मिले थे। उन्हें उम्मीद है कि कोच जो अधिक से अधिक अंतरराष्ट्रीय दोस्ताना मुकाबले चाहते हैं, वह उन्हें मिले। उन्होंने कहा कि जब सितंबर में क्वालिफायर शुरू हो तो टीम को पता होगा कि कोच क्या चाहते हैं। वह जानते हैं कि उन्हें किस तरह की टीम चुननी है।

भारतीय टीम :

गोलकीपर : गुरप्रीत सिंह संधू, अमरिंदर सिंह, कमलजीत सिंह

डिफेंडर : प्रीतम कोटाल, राहुल भेके, संदेश झिंगन, आदिल खान, सुभाशीष बोस

मिडफील्डर : उदांता सिंह, जैकीचंद सिंह, ब्रेंडन फर्नांडिस, अनिरुद्ध थापा, रेनियर फर्नांडिस, प्रणाय हल्धर, सहल अब्दुल समद, अमरजीत सिंह, लालियानजुआला चांग्ते, माइकल सूसाइराज।

फारवर्ड : बलवंत सिंह, सुनील छेत्री, फारूख चौधरी और मानवीर सिंह।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned