भारतीय फुटबॉल टीम के खेल में स्थिरता नहीं, लेकिन युवा खिलाड़ियों से उम्मीदें

भारतीय फुटबॉल टीम के खेल में स्थिरता नहीं, लेकिन युवा खिलाड़ियों से उम्मीदें

Manoj Sharma | Publish: Jun, 05 2019 10:24:12 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • चीफ कोच के अनुसार भारतीय फुटबॉल टीम में स्थिरता का अभाव है
  • किंग्स कप के पहले ही मैच में कुराकाओ ने भारत को 3-1 से हराया
  • कोच ने कहा दूसरे हाफ में मौके होने पर भी हम गोल नहीं कर सके

बुरिराम। भारतीय फुटबॉल टीम के चीफ कोच इगोर स्टीमाक ने भारतीय टीम की तुलना बुरिराम के मौसम से की है। कोच के अनुसार जिस तरह बुरिराम में एक वक्त आसमान में सूरज चमक रहा होता है और कुछ ही देर बाद तूफान आ जाता है, ठीक उसी तरह भारतीय फुटबॉल टीम के प्रदर्शन में भी स्थिरता का अभाव है।

आप को बता दें कि किंग्स कप के पहले ही मैच में कुराकाओ ने भारत को 3-1 से हरा दिया। चैंपियनशिप के इस मैच में भारतीय टीम के पहले मैच के बारे में स्टीमाक ने कहा कि दूसरे हाफ में हमने अपनी रणनीति में कुछ बदलाव किया और इससे हमारी टीम के खेल में निखार भी आया, लेकिन वह पर्याप्त नहीं था।

ये भी पढ़ें: किंग्स कप फुटबॉल : कुराकाओ के खिलाफ भारत का पलड़ा भारी, कोच इगोर स्टीमाक की पहली परीक्षा

स्टीमाक ने कहा कि भारतीय टीम के खिलाड़ी बॉल पर ठीक ढंग से कंट्रोल कर पा रहे थे। खासतौर से बेंच से टीम में आए दो युवा खिलाड़ियों का प्रदर्शन काफी अच्छा था। सिर्फ 18 साल के अमरजीत सिंह और रायनेइर फर्नांडेज, दोनों दूसरे हाफ में मैच खेलने आए थे। दोनों ही खिलाड़ियों की कवरिंग बेहतर थी। इन युवा खिलाड़ियों ने बड़े स्ट्राइकर्स के सामने हार नहीं मानी और लगातार मौके बनाते रहे। इस वजह से भारतीय टीम को दूसरे हाफ में गोल करने के 5-6 मौके मिले, लेकिन हम उसका लाभ नहीं उठा सकेंगे। आपको बता दें कि आठ जून को भारत तीसरे स्थान के लिए प्लेऑफ में थाईलैंड या वियतनाम से भिड़ेगा।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned