ISL 5 : दिल्ली और जमशेदपुर के मैच में हो सकता है उलटफेर

हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अपने 12वें दौर के मुकाबले में जमशेदपुर एफसी का सामना बुधवार को दिल्ली डायनामोज से होना है। दिल्ली की टीम बेशक अब तक एक भी मैच नहीं जीत सकी है लेकिन जमशेदपुर को उसके खिलाफ सावधान रहना होगा।

By:

Updated: 11 Dec 2018, 08:30 PM IST

नाइ दिल्ली । हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अपने 12वें दौर के मुकाबले में जमशेदपुर एफसी का सामना बुधवार को दिल्ली डायनामोज से होना है। दिल्ली की टीम बेशक अब तक एक भी मैच नहीं जीत सकी है लेकिन जमशेदपुर को उसके खिलाफ सावधान रहना होगा। जमशेदपुर की टीम 11 मैचों से तीन जीत, सात ड्रॉ और एक हार से 16 अंक लेकर 10 टीमों की तालिका में पांचवें स्थान पर है। दिल्ली की टीम ने 10 मैचों से सिर्फ चार अंक जुटाए हैं। इस टीम का जीत का खाता अब तक नहीं खुल सका है और इसे अब तक छह हार मिली है। यह टीम सबसे नीचे है।

जमशेदपुर के नाम इस सीजन में सबसे अधिक ड्रॉ का रिकार्ड है। अंतिम बार दोनों टीमों के बीच जब भिडं़त हुई थी, तब मुकाबला 2-2 से ड्रॉ रहा था। ऐसे में जमशेदपुर की टीम किसी भी हाल में दिल्ली के हाथों हारकर अपने अभियान को खतरे में नहीं डालना चाहेगी। हालांकि बीते पांच मैचों में मेजबान टीम को सिर्फ एक जीत मिली है। अपने अंतिम दो मुकाबलों में यह सिर्फ केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ गोल कर सकी है और वह भी पेनाल्टी के माध्यम से। ऐसे में यह देखना रोचक होगा कि क्या गंवाए गए मौके उसे प्लेऑफ में जाने के लिहाज से महंगे पड़ने वाले हैं?

इन सब तमाम बातों के बावजूद जमशेदपुर एफसी ने इस सीजन में गोवा के बाद सबसे अधिक गोल किए हैं। टिरी पर यह टीम जरूरत से अधिक आश्रित रही है लेकिन इसका उसे फायदा नहीं मिला है क्योकि इसने लगातार अंतराल पर गोल खाए हैं।जमशेदपुर के सहायक कोच गुलेर्मो फर्नाडेज गोंजालेज ने कहा, "दिल्ली की टीम अच्छा खेलती है। इस टीम के पास आक्रमण की कला है। यह टीम जीतना चाहती है। क्लीन शीट अहम मुद्दा होगा और ऐसा करते हुए हम अधिक लय के साथ आक्रमण कर सकेंगे।"इस मैच में जमशेदपुर के स्टार खिलाड़ी माइकल सूसाइराज नहीं खेल सकेंगे क्योंकि वह चोटिल हैं। सर्गियो सिडोंचा भी चोटिल हैं और वह भी इस मैच में नहीं खेलेंगे। स्टार फारवर्ड टिम काहिल को गोल करने की जिम्मेदारी लेनी होगी। वह कार्लोस काल्वो और पाब्लो मोरगाडो के साथ टीम के लिए मौके बना सकते हैं। काल्वो अच्छी लय में हैं और दिल्ली की टीम उन पर नकेल कसने की तैयारी में होगी।

वहीं, दूसरी ओर दिल्ली का ध्यान अपने खराब फार्म से उबरने पर होगा। टीम के नाम अब तक सिर्फ नौ गोल हैं। लेकिन टीम का डिफेंस पूरी तरह बिखरा हुआ है। इस टीम के डिफेंस ने अब तक कुल 18 गोल खाए हैं। रोचक बात यह है कि 18 गोलों में से 15 गोल दूसरे हाफ में हुए हैं। इससे साफ जाहिर होता है कि इस टीम में फोकस की कमी है और यह पूरे 90 मिनट तक खेल पर अपना ध्यान बनाए नहीं रख पा रही है। ऐसे में जमशेपुर की टीम दिल्ली की कमजोरियो का फायदा उठाने का प्रयास करेगी।दिल्ली के मुख्य कोच जोसेफ गोम्बोउ ने कहा, "हम यहां जीत हासिल करने की उम्मीद के साथ आए हैं। हमारी मानसिक स्थिति अच्छी है। हमारे आंकड़े खराब हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि हमने हाथ खड़े कर दिए हैं। हमें कई चीजों पर काम करना है और अहम बात यह है कि हमारे पास विकासशील युवा खिलाड़ी हैं।"

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned