कोच कोंस्टेंटाइन के बोल, म्यांमार को उसकी धरती पर हराना बेहद मुश्किल

कोच कोंस्टेंटाइन के बोल, म्यांमार को उसकी धरती पर हराना बेहद मुश्किल
indian football

भारतीय टीम एशियन कप क्वॉलिफायर में ग्रुप ए लीग में 28 मार्च को म्यांमार के खिलाफ मैच खेलेगी।

मुंबई। एएफसी एशियाई कप क्वॉलिफायर्स के आखिरी दौर के मैच से पहले भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच स्टीफन कोंस्टेंटाइन ने कहा कि भारत की अपेक्षा म्यांमार टीम का पलड़ा भारी है। कोंस्टेंटाइन ने विरोधी टीम की तारीफ करते हुए कहा कि म्यांमार को उसकी धरती पर हराना आसान नहीं है। बावजूद इसके कोस्टेंटाइन ने 28 मार्च को होने वाले इस मुकाबले में सकारात्मक नतीजे की भी उम्मीद जताई ।

कोंस्टेंटाइन ने कहा कि भारतीय टीम के पास एक अच्छा मौका है। उन्होंने कहा कि भारत को म्यांमार से म्यांमार में खेलने में हमेशा दिक्कत आई है। इसलिए हमें अपने घरेलू मैच हर हाल में जीतने होंगे। कोच ने कहा कि म्यांमार के खिलाफ मैच काफी कठिन होगा। मेजबान अपनी सरजमीं पर प्रबल दावेदार होंगे। बावजूद इसके हम अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ कोशिश करेंगे और उम्मीद है कि नतीजा सकारात्मक आएगा।

बता दें कि भारतीय टीम एशियन कप क्वॉलिफायर में ग्रुप ए लीग में 28 मार्च को म्यांमार के खिलाफ मैच खेलेगी जबकि कंबोडिया के खिलाफ टीम का अंतरराष्ट्रीय दोस्ताना मैच 22 मार्च को फोनो पेन्ह में होगा। भारतीय टीम में नीशू कुमार, अनस एडाथोडीका, जैरी लारिनजुआला और मिलन सिंह सहित चार नए खिलाड़ियों को टीम में शामिल किया गया हैं।

भारतीय टीम :
गोलकीपर : सुब्रत पॉल, गुरप्रीत सिंह संधु, टीपी रेहनीश
डिफेंडर : प्रीतम कोटाल, नीशू कुमार, संदेश झिंगन, अर्नब मंडल, अनस एडाथोडीका, धनपाल गणेश, फुल्गांको कार्डोजो, नारायन दास, जैरी लारिनजुआला
मिडफील्डर : जैकीचंद सिंह, उदांता सिंह, एवगनेसन लिंगदोह, मिलान सिंह, मुहम्मद रफीक, रॉलिन बोर्गस, हलीचरन नारजरी, सीके विनीत
फॉरवर्ड : जेजे लालपेखलुआ, सुनील छेत्री, डेनियल लालहिंपुआ, रोबिन सिंह।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned