आई-लीग के आयोजन पर मंडराया खतरा, सुपर कप से आई सात टीमों ने वापस लिया नाम

आई-लीग के आयोजन पर मंडराया खतरा, सुपर कप से आई सात टीमों ने वापस लिया नाम

Kapil Tiwari | Publish: Mar, 14 2019 12:22:31 PM (IST) फ़ुटबॉल

  • 15 मार्च से आई-लीग फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन होना है
  • इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाली टीमों ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है
  • टूर्नामेंट से नाम वापस लेने वाली टीमों ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ पर अनुचित व्यवहार करने का आरोप लगाया है

नई दिल्ली। आई-लीग फुटबॉल टूर्नामेंट के आयोजन पर अनिश्चितताओं के बादल मंडराने लगे हैं। दरअसल, बुधवार को सात क्लबों ने इस टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले लिया है। सभी ने अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ पर अनुचित व्यवहार का आरोप लगाया है।

- हालांकि 15 मार्च से शुरु हो रहे इस टूर्नामेंट में अन्य छह टीमें अभी हिस्सा लेंगी। इन टीमों ने टूर्नामेंट से बाहर होने के फैसले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अखिल भारतीय फुटबाल महासंघ (एआईएफएफ) के महासचिव कुशल दास के हवाले से बताया गया है कि सात क्लबों ने उन्हें पत्र के जरिए अपने फैसले के बारे में बताया है। दास ने हालांकि, यह नहीं बताया कि एआईएफएफ का अगला कदम क्या होगा।

- टूर्नामेंट में भाग लेने वाले छह क्लबों ने अपने इस निर्णय पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी, लेकिन मिनर्वा पंजाब ने कहा कि उन्होंने एआईएफएफ द्वारा आई-लीग के प्रति अपनाए गए खराब रवैए के कारण प्रतियोगिता से हटने का फैसला लिया है।

- मिनर्वा ने कहा कि सुपर कप के लिए प्रायोजक होने के बावजूद एआईएफएफ ने क्लबों को किसी प्रकार की वित्तीय सहायता प्रदान नहीं की और एएफसी कप की जगह दांव पर न होने के कारण उन्होंने टूर्नामेंट में भाग लेना जरूरी नहीं समझा। मिनर्वा ने 15 मार्च को आईएसएल की टीम एफसी पुणे सिटी के खिलाफ सुपर कप का क्वालीफाइंग मैच खेला था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned