एएफसी एशियन कप फुटबॉल : बहरीन से बदला लेकर अंतिम 16 में पहुंचने को तैयार टीम इंडिया

एएफसी एशियन कप फुटबॉल : बहरीन से बदला लेकर अंतिम 16 में पहुंचने को तैयार टीम इंडिया

Mazkoor Alam | Updated: 13 Jan 2019, 07:09:16 PM (IST) फ़ुटबॉल

अगर आंकड़ों की बात करें तो भारत और बहरीन के बीच अब तक सात मुकाबले हुए हैं और 5 बार जीत बहरीन के हाथ लगी है। एक मैच ड्रा रहा है तो भारत केवल एक ही जीत पाया है।

शारजाह : भारतीय फुटबॉल टीम सोमवार को अल शारजाह स्टेडियम में एएफसी एशियन कप के अपने तीसरे और ग्रुप चरण अपने अंतिम मुकाबले में बहरीन का सामना करेगी। विश्‍व रैंकिंग के हिसाब से बहरीन से ऊपर की भारत की टीम पर अपने ग्रुप से दूसरे चरण में जाने का दबाव होता तो एक दबाव यह भी होगा कि वह बहरीन को पटक कर 2011 में इसी टूर्नामेंट में इस टीम से मिली अपनी करारी हार का बदला चुकाए। भारत ने आखिरी बार 2011 में एशियन कप में भाग लिया था और ग्रुप स्तर के अपने दूसरे मैच में बहरीन ने उसे 2-5 से रौंद दिया था। हालांकि तब से अब तक गंगा में काफी पानी बह चुका है और मौजूदा फॉर्म और रैंकिंग को आधार माने तो इस बार भारतीय टीम जीत की प्रबल दावेदार है। लेकिन जैसा भारतीय टीम के मुख्‍य कोच कांस्‍टेनटाइन ने भी कहा था कि मैच कागजों पर नहीं, मैदान पर खेले जाते हैं। इसलिए टीम इंडिया को बहरीन के खिलाफ सावधान रहना होगा।

इस मैच में हार कर सकती है भारत का अभियान समाप्‍त
बता दें कि फिलहाल भारत ग्रुप तालिका में भारत दो मैचों के बाद तीन अंकों के साथ दूसरे पायदान पर मौजूद है। तीसरे स्थान पर मौजूद थाईलैंड के भी इतने ही अंक हैं, लेकिन गोल अंतर के आधार पर भारत उससे आगे है। बहरीन के पास मात्र एक अंक है और वह आखिरी स्‍थान पर है, लेकिन अगर वह भारत से जीत गया तो टीम इंडिया को बाहर करने के साथ दूसरे दौर के लिए क्‍वालिफाई भी कर सकता है। मेजबान संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) अकेले चार अंक लेकर शीर्ष पर बना हुआ है। इस ग्रुप में हर टीम के पास अगले दौर में पहुंचने का मौका है। भारतीय टीम को अगर किसी अगर-मगर के बिना अगले दौर में जगह बनानी है तो उसे इस मैच में जीतना ही होगा। ड्रॉ होने की स्थिति में भारत को यूएई और थाईलैंड के बीच मुकाबले के नतीजे पर निर्भर रहना होगा, जो भारत किसी हाल में न हीं चाहेगा। भारत के पास पिछले मैच में यूएई को हराकर अंतिम-16 पहुंचने का शानदार मौका था, लेकिन 0-2 से हारकर उसने खुद के लिए मुश्किल खड़ी कर ली है।

कोच ने कहा जीत चाहिए
भारतीय टीम के कोच स्टीफन कांस्टेनटाइन ने भी माना कि बहरीन के खिलाफ उन्हें हार हाल में जीत दर्ज करनी होगी। उन्‍होंने कहा कि पहले भी कहा है कि उनकी टीम इस ग्रुप से क्वालीफाई कर सकती है और उनका लक्ष्‍य भी यही है। अगर टीम जीत दर्ज करती है तो किसी और चीज की चिंता करने की जरूरत नहीं है। यह अहम मैच है और वे अच्छा प्रदर्शन कर तीन अंक हासिल करना चाहेंगे। उन्‍होंने कहा कि हालांकि विपक्षी टीम का डिफेंस अच्छा है। यह मैच मुश्किल साबित होने जा रहा है, लेकिन उनकी टीम ने यह साबित किया है कि वह अच्छी टीमों के खिलाफ गोल कर सकते हैं।

भारत को 5 में मिली है हार और सिर्फ 1 मुकाबला जीता है
अगर आंकड़ों की बात करें तो भारत और बहरीन के बीच अब तक सात मुकाबले हुए हैं और 5 बार जीत बहरीन के हाथ लगी है। एक मैच ड्रा रहा है तो भारत केवल एक ही जीत पाया है।

कोच ने कहा कि आंकड़ों पर भरोसा नहीं
कोच कांस्टेनटाइन ने कहा कि उनका भरोसा आंकड़ों पर नहीं है। मैच के दौरान कई चीजें मायने रखती है। आखिरी बार कब खेला था? क्या यही टीम थी? स्थिति क्या थी? हर चीज बदलती रहती है। वहीं हम यह जानते हैं कि बहरीन ने शानदार प्रदर्शन कर टूर्नामेंट में जगह बनाई है। वह बिना लड़े हार नहीं मानेंगे।"

पिछली टीम ही उतारेगी टीम इंडिया
बहरीन के खिलाफ भारतीय की टीम में बदलाव की कोई संभावना नहीं दिख रही है। पिछले मैच में जो टीम मैदान पर उतरी थी, उसी के उतरने की उम्‍मीद है। भारतीय टीम की उम्‍मीद हर बार कि तरह इस मैच में भी करिश्माई फारवर्ड सुनील छेत्री पर टिकी रहेगी, जबकि डिफेंस को और चौकस होना होगा। सेंटर बैक अनस एडाथोडिका के लिए पिछला मैच अच्छा नहीं रहा था और बहरीन के खिलाफ होने वाले अहम मैच में वह कोई गलती नहीं करना चाहेंगे।

टूर्नामेंट में बहरीन का फॉर्म नहीं है बेहतर
भारतीय टीम इस बात का भी फायदा उठाना चाहेगी कि बहरीन टीम ने इस टूर्नामेंट में अच्‍छा खेल नहीं दिखाया है। उसका हालिया फॉर्म खराब रहा है। टूर्नामेंट के पहले मैच में मेजबान टीम के खिलाफ 1-1 से ड्रॉ खेला, जबकि दूसरे मैच में थाईलैंड के खिलाफ उसे 0-1 की अप्रत्याशित हार झेलनी पड़ी।
बहरीन के सहायक कोच खालिद ताज ने कहा कि वह उस भारतीय टीम का सम्मान करते हैं, जिसने पहले दो मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने एशिया में खुद को बहुत बेहतर किया है। हम भारत का सामना करने के लिए अपने खिलाड़ियों को मानसिक और शरीरिक रूप से तैयार कर रहे हैं।

यह मैच भारतीय समय अनुसार रात के 9:30 बजे खेला जाएगा।

भारतीय टीम :
गोलकीपर : गुरप्रीत सिंह संधू, अमरिंदर सिंह, विशाल कैथ।
डिफेंडर : प्रीतम कोटाल, संदेश झिंगन, अनस एदाथोडिका, सलाम रंजन सिंह, सार्थक गोलुई, सुभाशीष बोस और नारायण दास।
मिडफील्डर : उदांता सिंह, जैकीचंद सिंह, प्रणॉय हल्दर, अनिरुद्ध थापा, विनीत राय, रॉलिगं बोर्गेस, जर्मनप्रीत सिंह, अशिक कुरुनियान, हालीचरण नारजारे।
फारवर्ड : सुनील छेत्री, जेजे लालपेखलुआ, बलवंत सिंह, सुमित पस्सी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned