यूरिया न मिलने से भड़के किसान, कुछ देर सड़क पर बैठ कर नारेबाजी की

लगा सड़क पर जाम, पुलिस ने आकर बनाई व्यवस्था

गाडरवारा। क्षेत्र के अन्नदाता किसानों को एकओर प्राकृतिक आपदाओं, मौसम में बदलाव से चिंतामग्र देखा जा रहा है। वहीं दूसरी ओर फसलों को बचाने यूरिया, खाद पाउडर के इंतजाम में भी लगा है। इस वर्ष शुरुआत से ही किसानों को यूरिया के लिए कतारों में लगा देखा जा रहा है। जिले भर में यूरिया के लिए किसानों की लाइनें लगती रहीं। इसी प्रकार अब भी किसानों को कतारों में लगा देखा जा रहा है। शुक्रवार को स्थानीय राठी तिराहे के पास अस्पताल रोड स्थित एक निजी दुकान पर सुबह से ही यूरिया के लिए किसान पहुंचने आरंभ हो गए थे। दोपहर तक यहां लंबी कतार लग गई। किसानों को आधार कार्ड के आधार पर दो बोरी यूरिया प्रति कार्ड 280 रुपए बोरी के हिसाब से प्रदान किया गया। लेकिन किसानों के मान से यूरिया कम होने से अनेक लोगों को यूरिया नहीं मिल सका। जिससे सुबह से कतारों में लगे किसान आक्रोशित हो उठे एवं सड़क पर बैठकर नारे बाजी करने लगे। करीब आधे घंटे से अधिक समय तक किसानों की नारेबाजी चलती रही। लेकिन नगर के बाहर होने से मौके पर कोई अधिकारी नहीं पहुंचा। इसके बाद कुछ पुलिस कर्मी पहुंचे एवं यातायात व्यवस्था ठीक कराई। इसके पूर्व अस्पताल रोड सड़क पर दोनों ओर आधे घंटे तक तिपहिया, चारपहिया वाहनों का आवागमन बंद रहा एवं वाहनों की कतारें सड़क पर लगी रहीं। किसानों के उठने के बाद जैसे तैसे हालत सामान्य हुई।

arun shrivastava Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned