शहर से लेकर गांव तक रहा कांग्रेस के बन्द का असर

शहर से लेकर गांव तक रहा कांग्रेस के बन्द का असर

ajay khare | Publish: Sep, 10 2018 06:38:54 PM (IST) Gadarwara, Madhya Pradesh, India

बैलगाड़ी में निकले कांग्रेसी, शक्तिधाम पर दिया धरना हुई सभा

गाडरवारा। सोमवार को पेट्रोल डीजल मूल्य वृद्धि के विरोध में कांग्रेस के प्रस्तावित बंद का नगर से लेकर तहसील के गांव गांव में असर देखा गया। इस दौरान सुबह से ही कांग्रेसी एकजुट होकर बाजार में घूमते रहे एवं दुकानदारों से प्रतिष्ठान बंद रखने का आग्रह किया। जिस पर गाडरवारा नगर के बाजार में बंद लगभग पूरी तरह सफल रहा। नगर के अलावा सांईखेड़ा, चीचली, सालीचौका, कौडिय़ा, पनागर आदि गांवों में भी बंद का असर देखा गया। दोपहर को झंडाचौक पर ज्ञापन देने के उपरांत बाजार की दुकानें खुलने लगीं। जहां दोपहर तक दुकानें बंद रहीं वहीं पेट्रोल पंप तथा निजी स्कूल खुले रहे।
दोपहर को दिया धरना हुई आमसभा
वहीं कांग्रेसजनों ने दोपहर एक बजे से नगर के शक्तिधाम पलोटनगंज में भी धरना देकर आमसभा आयोजित की। जिसमें कांग्रेसी नेता मंच से भाजपा पर बहुत गरजे और लोगों से वायदा खिलाफी का आरोप लगाया। सभा के उपरांत धरना प्रदर्शन के पश्चात राज्यपाल के नाम एसडीएम को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें उल्लेख किया है कि लगातार हो रही पेट्रोल-डीजल की मूल्य वृद्धि को रोका जाए, नगर में गरीबों को आवासीय पट्टों का वितरण नहीं किया गया है, जिससे गरीब पीएम आवास योजना से वंचित हैं। तत्काल पात्र हितग्राहियों को आवासीय पट्टे दिए जाएं, महिलाओं की सुरक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएं, क्षेत्र की नदियों में प्रतिबंध के बाद भी लगातार रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। जिससे क्षेत्र की नदियों का अस्तित्व खतरे में पड़ गया है, उत्खनन पर रोक लगाई जाए, क्षेत्र के गन्ना उत्पादक किसानों को गन्ने का उचित मूल्य दिया जाए और समय पर शीघ्रता से भुगतान किया जाए, क्षेत्र में शिक्षित बेरोजगारी फैली हुई है, निर्माणाधीन एनटीपीसी में स्थानीय बेरोजगारों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएं ,शहर सहित आसपास के ग्रामों में अवैध शराब विक्रय्र पर रोक लगाई जाए, जुआं, सट्टा जैसे आपराधिक गतिविधियों में लिप्त लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाए। ज्ञापन में चेतावनी दी है कि उक्त समस्याओं का तत्काल निराकरण न होने पर कांग्रेस पार्टी जनांदोलन करेगी। जिसकी सम्पूर्ण जबावदारी शासन-प्रशासन की होगी। उक्तावसर पर भारी संख्या में वरिष्ठ एवं युवा कांग्रेसी मौजूद रहे।
बसें बंद होने से परेशान हुए बस यात्री
सोमवार को बंद के चलते बसें भी नहीं चलीं इससे यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ी। बस ऑपरेटरों ने बंद का समर्थन किया था। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में जाने वाले यात्रियों की परेशानी बढ़ी। बस स्टैंड पर बसें खड़ी रहीं। लोग निजी साधनों एवं अन्य वाहनों का सहारा तलाशते रहे।
बैलगाड़ी पर निकले कांग्रेसी
नगर के पुरानी गल्लामंडी से लेकर झंडाचौक तक कांग्रेसी युवा बैलगाड़ी में सवार होकर निकले तथा बढ़ते डीजल पेट्रोल के दामों का प्रतीकात्मक विरोध किया। झंडाचौक पर एकत्र कांग्रेसियों ने एक सभा आयोजित कर तहसीलदार रश्मि चतुर्वेदी को राज्यपाल के नाम का ज्ञापन सौंपा। जिसमें उल्लेख किया गया है कि वर्तमान महंगाई में आम जनता परेशान है और लगातार डीजल पेट्रोल रसोई गैस के मूल्य में हो रही वृद्धि से आमजन का बुरा हाल हो गया है। आम जनता एवं साधारण परिवार के जरूरत की रसोई गैस और पेट्रोल के लगातार बढ़ चुके दामों से परेशान हैं और आर्थिक परेशानियों के दौर से गुजर रहे हैं। उधर कृषि कार्य में उपयोगी डीजल के दाम बढऩे से किसानों की कृषि लागत बढ़ रही है, जिससे किसानों पर बोझ बढ़ गया है। निवेदन है कि भाजपा सरकार के राज में बेतहाशा वृद्धि का हम विरोध करते हैं और मांग करते हैं कि तत्काल डीजल पेट्रोल एवं रसोई गैस के दामों को कम किया जाए। अन्यथा कांग्रेस पार्टी द्वारा आंदोलन किया जाएगा, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी। भावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए ज्ञापन पर शीघ्र निर्णय अपेक्षित है। समस्त कांग्रेस संगठन एवं आम जनता की ओर से सौंपे ज्ञापन पर अनेक लोगों के हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन दिया गया। इस दौरान झंडाचौक एवं नगर में एहतियात के चलते पुलिस बल मौजूद रहा। लेकिन क्षेत्र में बंद शांतिपूर्ण संपन्न हुआ।

Ad Block is Banned