Jio GigaFiber Update: 3 महीने Free इंटरनेट के अलावा मिलेंगे ये प्रोडक्ट्स

Jio GigaFiber Update: 3 महीने Free इंटरनेट के अलावा मिलेंगे ये प्रोडक्ट्स

Vishal Upadhayay | Publish: Sep, 06 2018 01:21:13 PM (IST) गैजेट

इस सर्विस को लेकर यह उम्मीद जताई जा रही है कि इससे ब्रॉडबैंड सेवा में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।

नई दिल्ली: Reliance Jio की ब्रॉडबैंड सर्विस Jio Giga Fiber के लिए रजिस्ट्रेशन चल रहा है। कंपनी ने इसे अपने 41वें सालाना जनरल मीटिंग में लॉन्च किया था। ऐसी उम्मीद लगाई जा रही है कि कंपनी अपने इस सर्विस को दिवाली के आसपास शुरू कर सकती है। कंपनी का पूरे देश में 1100 शहरों में गीगाफाइबर ब्रॉडबैंड सेवा उपलब्ध कराने का लक्ष्य है। कंपनी ने वर्तमान में देश भर के लगभग 900 शहरों और कस्बों में सेवा उपलब्ध कराई है। इस सर्विस को लेकर यह उम्मीद जताई जा रही है कि इससे ब्रॉडबैंड सेवा में बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है।

जानें क्या होगी कीमत

कंपनी गीगा फाइबर यूजर्स को 3 महीने का फ्री प्रिव्यू ऑफर दे सकती है जिसमें आपको तीन महीने तक इंटरनेट की फ़िक्र करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। इस ऑफर के तहत यूजर्स को हर महीने 100 जीबी डाटा मुफ्त में दिया जाएगा। आपको बता दें कि इन सेवाओं के लिए ग्राहक को शुरुआत में 4,500 रुपये देने होंगे। अभी तक दूसरी कंपनियां ब्रॉडबैंड सेवा के लिए कॉपर लाइंस का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन, इसकी जगह रिलायंस जियो फाइबर ऑप्टिकल का इस्तेमाल करेगा, जिसकी वजह से ग्राहकों को इंटरनेट की स्पीड बाकी कंपनियों से बेहतर मिलेगी। ख़बरों की माने तो कंपनी दूसरे ऑपरेटर्स के मुकाबले सस्ते में सर्विस उपलब्ध कराएगी। जहां दूसरे ऑपरेटर्स 700 से 1000 रुपये महीना चार्ज करते हैं। वहीं, रिलायंस जियो का मंथली प्लान 500 रुपये का होगा।

सर्विस के साथ मिलेंगे यह प्रोडक्ट्स

ब्रॉडबैंड सर्विस को इस्तेमाल करने के लिए कंपनी अपना खुद का Jio GigaRouter भी देगी, जो 1 जीबीपीएस की हाईस्पीड तक इंटरनेट पहुंचाएगा। इसके अलावा कंपनी इंटरनेट टीवी सेटअप बॉक्स बतौर जियो गीगा टीवी के रूप में उपलब्ध कराएगी। यह इंटरनेट के साथ साथ 4K क्वालिटी में 600 से अधिक टीवी चैनल्स की ब्रॉडकास्टिंग करेगा। इसके साथ ही वॉयस कंट्रोल से चलने वाला रिमोट भी होगा। ऐसा माना जा रहा है कि कंपनी के इस सर्विस से लोगों के टीवी देखने का नजरिया पूरी तरह से बदल जाएगा।

Ad Block is Banned