सावधान! मोबाइल चार्जर से भी लीक हो सकता है आपका डेटा, जानिए कैसे

Anil Jangid

Publish: Aug, 26 2017 01:25:00 PM (IST)

गैजेट्स रिव्यू
सावधान! मोबाइल चार्जर से भी लीक हो सकता है आपका डेटा, जानिए कैसे

मोबाइल फोन के यूजएसबी चार्जर से यूजर्स का डेटा लीक हो सकता है।

नई दिल्ली। गैजेट्स में टेक्नोलॉजी दिनों—दिन बढ़ती जा रही है जिसका फायदा यूजर्स को हो रहा है। लेकिन इसी टेक्नोलॉजी का गलत इस्तेमाल भी किया जा सकता है जिसका सीधा नुकसान यूजर्स को उठाना पड़ सकता है। इससे मतलब ये कि एक ओर जहां टेक्नोलॉजी यूजर्स को सहूलियत देती है वहीं, दूसरी ओर आपकी सिक्योरिटी को लेकर यह खतरनाक भी है। आज ऑनलाइन ही रोजमर्रा के सभी कार्य करने में आसानी हो गई लेकिन इसी के साथ कई एप्स और एसेसरीज ऐसे भी हैं जो यूजर्स निजी डेटा चुराते हैं। इसी के तहत हाल ही में आई एक रिपोर्ट में बताया गया है मोबाइल फोन चार्ज करने वाले यूएसबी कैबल के जरिए भी यूजर्स का डेटा चुराया जा सकता है।

 

यूएसबी कैबल से होता है डेटा चोरी
आज के समय में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल बढ़ने से यूजर्स भी स्मार्ट हो चुके हैं जो अपने गैजेट्स का इस्तेमाल सिक्योर तरीके से करते हैं। ट्रैवल के समय इयरफोन का यूज, गेम्स खेलना अथवा पढ़ते-पढ़ते सोशल मीडिया स्टेट्स चेक करना आदि काम करते समय यूजर्स अपनी सिक्योरिटी का काफी ध्यान रखते हैं। लेकिन कई बार चूक हो ही जाती है। ऐसे में कई बार ऐसी चीजों अथवा एसेसरीज से भी यूजर्स का पर्सनल डेटा चोरी हो जाता है जिसकी उन्हें आशंका भी नहीं होती है। उन्हीं एसेसरीज में शामिल है यूएसबी कैबल। क्योंकि यूएसबी कैबल के जरिये स्मार्टफोन को कंप्यूटर से कनेक्ट करने पर उसमें रखी निजी जानकारी लीक होने का खतरा है। यह जानकारी हाल ही में ऑस्ट्रेलिया की एक यूनिवर्सिटी के विशषज्ञों ने 50 अलग-अलग कम्प्यूटर्स और एक्सटर्नल यूएसबी हब्स पर रिसर्च करने के बाद दी है।

 

लीक हो सकता है 90 फीसदी डेटा
इस रिसर्च में आंकड़े सामने आए हैं वो चौंकाने वाले हैं। इसमें बताया गया है कि स्मार्टफोन्स का 90 फीसदी डेटा लीक होकर एक्सटर्नल कैबल में पहुंच गया था। रिसर्चर्स की ओर से यह भी बताया गया यूएसबी कैबल कनेक्ट किए गए डिवाइसेज में कीबोर्ड्स, कार्ड स्वाइप्स, और फिंगरप्रिंट रीडर्स आदि ज्यादातर कंप्यूटर को सेंसिटिव डेटा भेजने का काम करते हैं। हालांकि यूएसबी कैबल के जरिए स्मार्टफोन से डेटा केवल तभी लीक हो सकता है जब कंप्यूटर में उसी समय अन्य कैबल्स भी लगे हों। इसके अलावा यदि कंप्यूटर अथवा डिवाइस में वायरस होने पर भी डेटा लीक हो सकता है। साथ ही इंटरनल यूएसबी हब में वायरस होने पर भी निजी जानकारी लीक होने का खतरा रहता है।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned