पुलिस ने अचानक होटल में मारी रेड तो नजारा देख फटी रह गई आंखे, 7 जोड़े सहित एक युवती मिली संदिग्ध हालत में....

पुलिस ने अचानक होटल में मारी रेड तो नजारा देख फटी रह गई आंखे, 7 जोड़े सहित एक युवती मिली संदिग्ध हालत में....

Bhawna Chaudhary | Publish: May, 25 2019 03:51:25 PM (IST) Gariaband, Raipur, Chhattisgarh, India

पुलिस ने लॉज और गेस्ट हाउस में छापा मारा (Police raid) तो 7 जोड़े सहित एक युवती मिली संदिग्ध हालत (suspicious condition ) में बंद कमरे में मिली।

नवापारा-राजिम. छत्तीसगढ़ में पुलिस ने लॉज और गेस्ट हाउस में छापा मारा (Police raid) तो 7 जोड़े सहित एक युवती मिली संदिग्ध हालत (suspicious condition ) में बंद कमरे में मिली।पुलिस सभी जोड़ों और रेस्ट हाउस के संचालकों को लेकर थाने आई। तीन घंटे की गहन पूछताछ व जांच के बाद चार पुरुषों और दोनों लाज के संचालकों के विरुद्ध प्रतिबंधात्मक कार्रवाई (Crime news) करते हुए एसडीएम अभनपुर के न्यायालय में पेश किया। एसडीएम के अभनपुर में मौजूद नहीं रहने के कारण आरोपियों को रायपुर ले जाया गया। शेष जोड़ों व युवती को छोड़ दिया गया।

 

crime news

यह है पूरा मामला
रायपुर पुलिस की स्पेशल टीम के साथ दोपहर 1 बजे अलग-अलग भागों में बंटकर एक ही समय स्टेट बैंक के सामने स्थित लक्ष्मीनारायण लाज और पोस्ट ऑफिस के बाजू स्थित आनंद गेस्ट हाउस में घुसे। लक्ष्मीनारायण लाज से 3 जोड़े और एक युवती, जबकि आनंद गेस्ट हाउस से 4 जोड़े महिल-.पुरुष बंद कमरोंं में मिले। पकड़े गए लोगों में रायपुर, धमतरी सहित गरियाबंद जिले के तरीघाट, कुंडेल गांव के लोग शामिल हैं।

इसके बाद स्पेशल पुलिस ने गोबरा नवापारा थाना प्रभारी अमित तिवारी को कार्रवाई की सूचना दी। तिवारी तत्काल दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। इसके बाद दोनों विभागों द्वारा संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए सभी जोड़ों, युवती और रेस्ट हाउस संचालकों को लेकर थाने आई। यहां सभी से पृथक-पृथक पूछताछ करते हुए उनके परिचय और निवास की जानकारी हासिल की। इसके बाद सभी के परिजनों को सूचित कर थाने बुलाया गया।

 

crime news

युवती से की गई गहन पूछताछ
लक्ष्मीनारायण लाज के बंद कमरे में अकेली मिली 24 वर्षीय युवती को लेकर पुलिस सहित पत्रकारों के मन में कुछ आशंका थी। युवती ने स्वयं को रायपुर से निजी काम से आना बताते हुए अपने परिचित युवक को फोन कर ओरिजिनल पहचान पत्र लेकर बुलाया। देवदास नामक युवक थाने पहुंचा और पुलिस को बयान दिया कि वह राजिम तहसील में कर्मचारी है और युवती उससे कुछ कागजात लेने आई थी। उसने युवती को फोन पर कहा था कि वह गरियाबंद से अभी आया है। कुछ देर कहीं इन्तजार करो, मैं आता हूं।
पुलिस ने युवक के पहचान पत्र और उसकी बातों पर विश्वास करते हुए युवती को जाने दिया। हालांकि कई बार दोनों की बातों में विरोधाभास परिलक्षित हो रहा था।

महिलाओं और युवतियों को परिजनों के साथ जाने दिया
थाने पहुंचे परिजन अपने परिवार के पुरुष- महिलाओं और युवतियों को बंद कमरे में अपने-अपने पार्टनर के साथ मिलने की बात सुनकर भौचक्क रह गए। पुलिस ने मामले की संवेदनशीलता को समझते हुए महिलाओं और युवतियों को तो उनके परिजनों के साथ जाने दिया। लेकिन पुरुषों के विरुद्ध कार्रवाई की।

इनके खिलाफ हुई कार्रवाई
थाना प्रभारी अमित तिवारी ने इस कार्रवाई की पुष्टि करते हुए बताया कि बलिराम पिता पुनाराम सोनकर (36) आमापारा राजिम, उमेश्वर पिता भागीरथी साहू (38) मुजगहन थाना कुरूद धमतरी, योगेश पिता रामा साय (24) मैनेजर आनन्द गेस्ट हाउस, मनीष उफऱ् बबलू पिता गोपाल वैष्णव (31) खम्हारडीह पंडरी रायपुर, दुबेलाल पिता धनसिंह साहू (25) कौन्दकेरा राजिम, हरिशंकर पिता स्व. प्रभुलाल देवांगन (31) संचालक लक्ष्मीनारायण लाज के विरुद्ध धारा 151 के तहत कार्रवाई (Crime news) की गई है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned