इस कांग्रेस नेता की ब्रेन हेमरेज हुई मौत, चार साल के बेटे ने दी मुखाग्नि, सबकी आंखे नम

28 मार्च को ब्रेन हेम्ब्रेज के बाद युवा कांग्रेस नेता नीरज ठाकुर का इलाज राजधानी के निजी अस्पताल में चल रहा था।

By: Deepak Sahu

Updated: 04 Apr 2019, 07:39 PM IST

देवभोग। युवा कांग्रेस के नेता नीरज ठाकुर का निधन बुधवार देर शाम हुआ। वें 47 साल के थे। गुरूवार को उनके गृह ग्राम अमलीपदर में अंतिम संस्कार किया गया। नीरज के चार साल के बेटे नीरव ठाकुर ने जब मुखाग्नि दी, तो वहां मौजूद हर व्यक्ति की आंखों से आंसू छलक उठे। 28 मार्च को ब्रेन हेम्ब्रेज के बाद युवा कांग्रेस नेता नीरज ठाकुर का इलाज राजधानी के निजी अस्पताल में चल रहा था। अंतिम यात्रा में आज जिले भर से सैकड़ो लोग पहुंच कर अपने जनप्रतिनिधि को अंतिम विदाई दी। इसके उनके निवास ग्राम धूरुवागुड़ी के लोगों ने आज साप्ताहिक बाजार बंद कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

niraj thakur

रुपवन दीवान से झड़प कर सुर्खियों में आये थे नीरज
90 के दशक में नीरज अमलिपदर हायर सेकंडरी के छात्र थे। उन्होंने इलाके की समस्या से जूझना उसी समय से ही शूरू कर दिया था। उसी दौरान एक समस्या को लेकर तत्कालीन सांसद पवन दीवान के दौरे का कड़ा विरोध भी किया था। उनके कड़वे बोल के चलते पवन दीवान ने उन्हें तमाचा भी जड़ दिया था। जिसके बाद वे सुर्खियों में आ गए। 1995 के बाद उन्हें यूथ कांग्रेस की कई जिम्मेदारियां दी गई। तब से उनका राजनीतिक सफर सूरू हुआ था।

gariyaband

कभी बाजी नहीं हारने वाले मौत से हार गए
2004 में नीरज ने पहली बार मैनपुर जनपद का चुनाव लड़ा। इस जीत के बाद मैनपुर जनपद उपाध्यक्ष के लिए बाजी लगाई ओर कुर्सी हासिल कर ली। दूसरी बार फिर से 2009 में जनपद चुनाव जीता और उपाध्यक्ष बने। 2015 में जिला पंचायत गरियाबंद का चुनाव लड़ कर जिला पंचायत में निर्माण संचार व सनकर्म विभाग के सभापति बन गए।

Congress
Deepak Sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned