दिल्ली, हरियाणा के ये बदमाश कार से कर रहे थे गंदा काम, खुलासे के बाद पुलिस के उड़ गए होश

इन आरोपियों के पास से लगभग डेढ़ क्विंटल गांजा जब्त किया

गरियाबंद. जिले में लगातार सक्रिय क्राइम ब्रांच की टीम को एक और बड़ी सफलता मिला है। वन्य जीवों की तस्करी करने वालों को गिरफ्त में लेने के बाद अपने तगड़े नेटवर्क के चलते एक फिर क्राइम ब्रांच ने बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने इनोवा और स्विफ्ट गाड़ी के साथ 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों के पास से लगभग डेढ़ क्विंटल गांजा जब्त किया।

गरियाबंद जिला मुख्यालय में मुखबिर की सूचना पर आज क्राइम स्क्वाड ने हरियाणा व दिल्ली क्षेत्र के निवासियों को गांजे की तस्करी करते हुए पकड़ा। क्राइम ब्रांच की टीम ने मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए ओडिशा देवभोग मार्ग से गांजा लाते हुए गरियाबंद में 2 कार सवार लोगों को रावणभाठा के पास गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से लगभग ड़ेढ क्विंटल गांजा जब्त किया। जब्त किए गए सामान की कीमत लगभग 25 लाख रुपए आंकी जा रही है। क्राइम ब्रांच की यह बड़ी कार्रवाई है।

ज्ञात हो कि पंजाब, हरियाणा, बिहार, उत्तर प्रदेश से गांजा खरीदने के लिए देवभोग के रास्ते लोग ओडिशा से गांजा लेकर पहुंचते हैं और इसे अन्य माध्यमों के सहारे विभिन्न राज्यों में ले जाकर ऊंची कीमतों में बेचते हैं। क्राइम विभाग को सूचना मिली इसके आधार पर क्राइम स्क्वाड की टीम ने रावणभाठा में दोनों वाहनों को रोककर तलाशी ली। तो उसमें से लगभग डेढ़ क्विंटल गांजा और पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया गया। नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई के लिए भेज दिया गया। सभी पांचों आरोपी दिल्ली, हरियाणा क्षेत्र के हैं।

पुलिस अधीक्षक एमआर आहिरे, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नेहा पांडे लगातार टीम को देवभोग मार्ग से रायपुर जाने वाली गाडिय़ों पर नजर रखने के निर्देश दे रहे हैं। इसी के परिणाम स्वरूप मंगलवार को गांजे की इतनी बड़ी खेप पकड़ी गई। इसे पकडऩे में मुख्य रूप से क्राइम प्रभारी एसआई सचिन सिंह, एएएस आई संजय मरावी, अंगद राव, चूड़ा मणि देवता, दीप्ति नाथ , लव कुश ध्रुव, जय प्रकाश मिश्रा के साथ अन्य पुलिसकर्मियों शामिल थे।

चंदू निर्मलकर Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned