बिजली के पोल पर लगी प्रचार सामग्री और बोर्ड, नहीं हो रही कोई कार्रवाई नहीं

बिजली के पोल पर लगी प्रचार सामग्री और बोर्ड, नहीं हो रही कोई कार्रवाई नहीं

Deepak Sahu | Publish: Sep, 04 2018 06:20:00 PM (IST) Gariaband, Chhattisgarh, India

छत्तीसगढ़ के कई शहरों के इलेक्ट्रिक पोलों पर विज्ञापन के होर्डिंग्स लगाए जा रहे हैं।

गरियाबंद . छत्तीसगढ़ के कई शहरों के इलेक्ट्रिक पोलों पर विज्ञापन के होर्डिंग्स लगाए जा रहे हैं। इधर, चुनाव की तिथि अभी घोषित नहीं हुई है, प्रचार अभी से शुरू कर दिया गया है। इसके अलावा बिजली के खंभों पर आयोजन और जन्मदिन की बधाई दी जा रही है। विभाग है कि अभी भी कह रहा है शिकायत आने पर ही कार्रवाई कर पाएंगे। वहीं, उपभोक्ता अनाप-शनाप बिजली बिल थमाने से हलाकान हैं, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

विद्युत मंडल का रवैया अब शहर के साथ ग्रामीण उपभोक्ताओं को रुलाने लगा है। अव्यवस्था का आलम यह है कि कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ताजा मामला इलेक्ट्रिक पोल के दुरुपयोग का है, जबकि दूसरा मामला सीधे-सीधे उपभोक्ता हितों को झटका देने वाला है। पहले मामले से राहगीर परेशान है, क्योंकि राह चलते पोल पर लगी प्रचार सामग्री और बोर्ड आवागमन को बाधित करते हैं। दूसरा मामला भारी भरकम बिल की राशि से जुड़ा हुआ है। सामान्य से 4 गुना राशि का बिल थमा देना उपभोक्ताओं के लिए परेशानी का सबब है।

राज्य विद्युत मंडल के नियमों की बात करें तो किसी भी किस्म के प्रचार के लिए इलेक्ट्रिक पोल का उपयोग पूरी तरह प्रतिबंधित है। पोल पर लगाने पर मंडल के नियमानुसार दंडात्मक कार्यवाही का प्रावधान है, लेकिन शहर में जिस तरह यह काम हो रहा है, इससे साबित हो जाता है कि सबकुछ मेरी मर्जी की तर्ज पर चल रहा है। बीते 2 माह से शहर ही नहीं गांव के भी बिजली उपभोक्ता बेहद परेशान हैं। अचानक भारी भरकम राशि के बिल पहुंचने से बजट गड़बड़ा रहा है। सामान्य से 4 गुना ज्यादा राशि उपभोक्ताओं को थमाने के कारणों की तह में जाने पर पता चल रहा है कि मीटर रीडिंग में रीडर अपनी मर्जी से रीडिंग अंकित कर
रहे हैं।

छग राज्य विद्युत मंडल रायपुर के ईडी कैलाश नरनावरे ने बताया कि यदि ऐसा है तो संबंधित क्षेत्र के अधिकारी को नोटिस जारी कर पूछा जाएगा कि आपने कार्रवाई क्यों नहीं की।

इलेक्ट्रिक पोल पर प्रचार सामग्री का लगाया जाना पूरी तरह प्रतिबंधित है। शिकायत मिलने पर जांच करवाई जाएगी। रही बात ज्यादा बिल की राशि की तो शिकायत मिलने पर जांच करवाई जा सकती है।
यूआर मिर्झा, सुपरिटेंडेंट इंजीनियर छग विद्युत मंडल बलौदाबाजार

इलेक्ट्रिक पोल पर किसी भी किस्म की प्रचार सामग्री नहीं लगाई जा सकती। बोर्ड या होर्डिंग लगाने के नहीं है।
जीपी अनंत ईई छग विद्युत मंडल भाटापारा

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned