कुएं से आ रही थी अजीब-सी बदबू, नजदीक जाकर देखा तो उड़ गए होश

कुएं से आ रही थी अजीब-सी बदबू, नजदीक जाकर देखा तो उड़ गए होश

Chandu Nirmalkar | Publish: Feb, 15 2018 08:36:39 PM (IST) Gariaband, Chhattisgarh, India

कुएं से बदबू आने पर वे दोनों कुएं के पास गए तो देखा कि दो भालुओं का शव पानी में डूबा हुआ था।

गरियाबंद/रीवांसरार. उपवन परिक्षेत्र बल्दाकछार, लवन वन परिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम रीवांसरार में गहरे कुएं में गिरने से दो भालुओं की मौत हो गई । बड़ी मशक्कत के बाद वन विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने उन्हें कुएं से बाहर निकाला और पोस्टमार्टम के बाद मृत भालुओं का दाह संस्कार कर दिया गया।

Read More News: नाबालिग से प्यार के बाद उतारा मौत के घाट, फिर युवक के परिजनों ने शव के साथ किया ये सब

मृत भालू में एक माता जिसकी उम्र लगभग 10 वर्ष और दूसरा नर भालू जिसकी उम्र लगभग दो वर्ष है। बताया जाता है कि ग्राम रीवांसरार के घनश्याम प्रसाद के भर्री खेत में वर्षों पुराना कुआं है, जिसकी गहराई 20 फीट है, जिसमें पांच फीट पानी भरा हुआ है। लंबे अर्से से उपयोग नहीं होने से कुएं के आसपास बेर के बड़े-बड़े पेड़ उग आए हैं, जिसमें लगे बेर फल पकने लगे हैं। बेर खाने के चक्कर में दोनों भालू वहां पहुंचे होंगे और कुएं में गिर गए होंगे।

Read More News: नया नियम: अब पेट्रोल, डीजल भरवाना है तो बताना होगा मोबाइल नंबर, नहीं तो..

घटना की जानकारी मंगलवार को हुई जब गांव का मुकेश और तारकेश्वर बेर खाने के लिए भर्री खेत की तरफ गए। कुएं से बदबू आने पर वे दोनों कुएं के पास गए तो देखा कि दो भालुओं का शव पानी में डूबा हुआ था। उन्होंने फौरन इसकी जानकारी गांव वालों और फिर वन विभाग को दी। रात होने के कारण मृत भालुओं का कुएं से बाहर नहीं निकाला जा सका।

Read More News: मजदूरों ने PM मोदी की इस योजना का किया बहिष्कार, अब गांव-गांव हो रहे खाली

बुधवार सुबह वन विभाग क अमला मौके पर डटा रहा और बड़ी मशक्कत के बाद मृत भालुओं का बाहर निकाला गया। कसडोल के पशु चिकित्सा अधिकारी वायके साहू एवं पुटपुरा के पशु चिकित्सक वेदप्रकाश साहू द्वारा पोस्टमार्टम किए जाने के बाद भालुओं का दाह-संस्कार कर दिया गया।

Ad Block is Banned