उधारी के रुपये वापस करने से बचने के लिए चार युवकों ने किया एेसा कांड, जानकर हैरान गर्इ पुलिस- देखें वीडियो

गाड़ी में बिठाकर ले गये चार साथी

By: Nitin Sharma

Updated: 30 Dec 2018, 01:55 PM IST

गाजियाबाद।यूपी के गाजियाबाद में चार युवकों ने एक फाइनेंसर से उधारी के रुपये ले लिये।जब उसने रुपये वापस मांगे तो इससे बचने के लिए आरोपियों ने बैठकर उसकी हत्या कर दी।इतना ही नहीं आरोपियों ने उसका शव गाजियाबाद के ट्राॅनिका सिटी इलाके में फेंक दिया।जहां पुलिस ने शख्स का शव बरामद कर उसकी पहचान सुरेश प्रजापति के रूप में हुर्इ।अब पुलिस ने सुरेश प्रजापति की हत्या मामले में भारत और सचिन नाम के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।जबकि 2 लोग और इस मामले में अभी फरार हैं।

दिल्ली में फाइनेंसर था शख्स

इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए क्षेत्राधिकारी राजकुमार पांडे ने बताया कि 28 दिसंबर की शाम को थाना लोनी ट्रॉनिका सिटी इलाके में एक शख्स की लाश मिली थी। उसकी पहचान सुरेश प्रजापति निवासी दिल्ली के रूप में हुई थी और सुरेश फाइनेंस का काम किया करता था। इस हत्याकांड में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार की दोपहर राहगीरों ने शव को यमुना किनारे पड़ा देख कर पुलिस को सूचना दी थी। सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच की तो सिर पर चोट के निशान के अलावा मृतक के शरीर में पांच 5 गोलियां लगने के निशान थे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। और पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई थी।

 

उधार के रुपये देने के बहाने गाड़ी में ले गये थे साथी युवक

उधर इस संबंध में परिजनों ने रुपए के लेनदेन का मामला बताते हुए 4 लोगों के खिलाफ तहरीर दी। मृतक के भाई सोहन पाल ने पुलिस को बताया कि गौरव निवासी भजनपुरा पर उनके कुछ रुपए उधार थे। वह सुरेश को रुपया देने के बहाने अपने साथ गाड़ी में ले गया था। मृतक के भाई ने गौरव सुशांत निवासी राजस्थान सचिन निवासी सभापुर और भारत निवासी नेहरू विहार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। ट्रोनिका सिटी थाना प्रभारी नीरज कुमार सिंह का कहना है कि परिजनों की तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कराई है ।दो लोगों को हिरासत में लिया गया और इन्होंने पूछताछ के दौरान सुरेश प्रजापति की हत्या का पूरा राज खोल डाला और अपना जुर्म कुबूल कर लिया है फिलहाल अभी इस पूरे मामले में दो आरोपी और भी हैं जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned