Board Exam 2020: फीस जमा नहीं करने पर स्कूल ने रोक दिया था एडमिट कार्ड, छात्रा के आगे प्रबंधन हुआ मजबूर

Highlights:

-छात्रा ऑल स्कूल पेरेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर के तले धरने पर बैठ गई थ

-इन्होंने मांग की थी कि छात्रा का 1 साल बेकार न कराया जाए और उसका एडमिट कार्ड जारी किया जाए

इस पर सिटी मजिस्ट्रेट ने संज्ञान लिया और स्कूल को एडमिट कार्ड जारी करने के निर्देश दिए

गाजियाबाद। जनपद में 12वीं की एक छात्रा उस समय धरने पर बैठ गई जब फीस जमा नहीं करने पर स्कूल द्वारा उसका एडमिट कार्ड जारी नहीं किया गया। हालांकि सिटी मजिस्ट्रेट के निर्देश पर स्कूल ने छात्रा का एडिमट कार्ड गुरुवार को जारी कर दिया। जिससे उसका एक साल बर्बाद होने से बच गया।

यह भी पढ़ें : मनचलों ने युवती से की छेड़छाड़ तो पहुंच गए उसके भाई, इसके बाद दिखा खौफनाक मंजर, देखें वीडियो

बता दें कि गाजियाबाद में प्राइवेट स्कूलों में फीस को लेकर स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों और स्कूल मैनेजमेंट के बीच लगातार लड़ाई चल रही है। अभिभावकों का कहना है कि प्राइवेट स्कूल प्रबंधन द्वारा अचानक ही बेतहाशा फीस में वृद्धि कर दी जाती है। जिसके बाद अभिभावक अपने आप को ठगा सा महसूस करते हैं। इस महंगाई के दौर में अचानक ही बढ़ी फीस देना उनके लिए बड़ा मुश्किल होता है। इसके चलते छात्रा के परिजनों ने छात्रा की फीस नहीं भरी। जिसके बाद स्कूल प्रबंधन द्वारा छात्रा का एडमिट कार्ड रोक दिया गया।

यह भी पढ़ें: मुस्लिम वक्ताओं ने कहा- महिलाओं की तालीम और उनके हक के लिए जारी हों फतवे

इससे परेशान होकर छात्रा ऑल स्कूल पेरेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर के तले डीआईओएस के कार्यालय के सामने ही धरने पर बैठ गई थी। इन्होंने मांग की थी कि छात्रा का 1 साल बेकार न कराया जाए और उसका एडमिट कार्ड तत्काल प्रभाव से जारी किया जाना चाहिए। नहीं तो उनका धरना जारी रहेगा। इस पर सिटी मजिस्ट्रेट ने संज्ञान लिया और स्कूल को एडमिट कार्ड जारी करने के निर्देश दिए।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned