गाड़ी का शीशा खोलकर बोला युवक, 'मैं विधाायक का भतीजा हूं इसलिए टोल नहीं दूंगा’

Highlights

-घटना सीसीटीवी में कैद

-मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई

By: Rahul Chauhan

Updated: 07 Aug 2020, 09:05 PM IST

गाजियाबाद। मसूरी थाना क्षेत्र के डासना में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे पर टोल को लेकर बसपा विधायक मोहम्मद असलम के भतीजे की दबंगई का मामला सामने आया है। जिसमें गाड़ी बगैर टोल दिए निकालने पर टोल कर्मियों के द्वारा विरोध किया गया तो उसने अपने साथियों के साथ मिलकर जमकर मारपीट कर दी। टोल प्लाजा मैनेजर नीरज कुमार ने बताया कि 4 अगस्त को दोपहर करीब 3:00 बजे एक ब्रेजा का टोल प्लाजा की आठ नंबर लाइन पर आई। टोल बूथ पर बैठी महिला कर्मचारी ने टोल देने को कहा तो ब्रेजा में बैठे व्यक्ति ने गाली-गलौज शुरू कर दी।

कार सवार व्यक्ति ने खुद को विधायक का भतीजा बताते हुए हंगामा शुरू कर दिया और कहा कि मैं विधाायक का भतीजा हूं इसलिए टोल नहीं दूंगा। युवक ने तभी फोन कर अपने अन्य साथियों को बुला लिया और सेंट्रो कार में आए युवकों ने कहा कि वह लोग स्थानीय है। इसलिए टोल नहीं देंगे। इसी बात पर उन्होंने टोल कर्मियों से मारपीट की और बिना टोल दिए धमकी देकर चले गए। इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस से की गई है जिसके आधार पर थाना मसूरी में आरोपियों के खिलाफ बलवा, मारपीट की धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। वहीं बसपा विधायक मोहम्मद असलम का कहना है कि पहले टोल कर्मियों ने उनके भतीजे के अभद्रता की थी। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी देहात नीरज कुमार जादौन ने बताया कि इस तरह का मामला सामने आया है। टोल कर्मियों के द्वारा एक तहरीर दी गई है और सीसीटीवी फुटेज भी दिए गए हैं। जिसके आधार पर मामला दर्ज कर लिया गया है । पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि ब्रेजा कार गाजियाबाद निवासी मोहम्मद जुल्फिकार अली के नाम पर रजिस्टर्ड है। जबकि सेंट्रो कार गाजियाबाद निवासी है। नवाज अली के नाम पर रजिस्टर्ड है। इस संबंध में धौलाना विधायक बसपा विधायक मोहम्मद असलम से बात करने पर उन्होंने बताया कि ब्रेजा कार में उनके पड़ोस में रहने वाला भतीजा मोहम्मद शोएब मौजूद था। जो हाई कोर्ट में अधिवक्ता है। जबकि सेंट्रो कार में उनके बेटे के नाम पर रजिस्टर्ड है।

Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned