पांच राज्यों में मिली करारी हार के बाद भाजपा के लिए आई एक और बुरी खबर, नेताओं के उड़े होश

पांच राज्यों में मिली करारी हार के बाद भाजपा के लिए आई एक और बुरी खबर, नेताओं के उड़े होश

Iftekhar Ahmed | Publish: Dec, 16 2018 07:40:05 PM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

सवर्णोंं ने भाजपा के विरोध में खोला मोर्चा, 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कर दी बड़ी घोषणा। शेर सिंह राणा ने अपनी नई पार्टी राष्ट्रवादी पार्टी, कवि नगर रामलीला मैदान के मन से की गई घोषणा। केसरिया और हरे रंग का होगा झंडा ।

 

गाजियाबाद. एससी/एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट की ओर से किए गए बदलाव को केन्द्र सरकारी की ओर से पलटने की वजह से नाराज सवर्णों ने भाजपा के खिलाफ हल्ला बोलकर पांच राज्यों में मिली हार के जख्म को और हरा कर दिया है। सपा की दिवंगत सांसद फूलन देवी की हत्या मामले में आरोपी ठाकुरवादी नेता शेर सिंह के नेतृत्व में रविवार को हजारों लोगों ने अपना विरोध जताया और अब भाजपा को फिर से वोट नहीं देने की कसम खाई। इसके साथ ही शेर सिंह राणा ने ठाकुरों और मुस्लिमों को एक प्लेटफॉर्म पर लाकर भाजपा को सबक सिखाने की कसमें खाई।

यह भी पढ़ेंः 5 राज्यों में मिली हार के बाद अब भाजपा विधायक ने जुगाड़ से जिताने की कही बात, मचा बवाल

 

शेर सिंह राणा ने भाजपा सरकार के सवर्ण विरोधी कदम के विरोध में 5 जिलों में पदयात्रा कर रविवार को गाजियाबाद के कवि नगर रामलीला मैदान में एससी/एसटी एवं जातिगत आरक्षण के खिलाफ राष्ट्रीय समान अधिकार के नाम से एक जन आंदोलन की शुरुआत की । इस दौरान रामलीला मैदान में लाखों की संख्या में सवर्ण वर्ग के लोग जन आंदोलन में हिस्सा लेने पहुंचे। इस मौके पर सबसे ज्यादा संख्या में राजपूत वर्ग के लोग दिखाई दिए । कई जिलों से लाखों की संख्या में राजपूत जन आंदोलन में हिस्सा लेने पहुंचे थे । इसके अलावा मुस्लिम वर्ग के राजपूत भी जन आंदोलन में मौजूद रहे। इस दौरान सभी वक्ताओं द्वारा मंच के माध्यम से कहा गया कि देश के हित में राजपूतों ने सबसे ज्यादा कुर्बानियां दी है, लेकिन राजपूतों का हमेशा से ही शोषण होता चला आ रहा है । अब राजपूतों को जगाने के लिए शेर सिंह राणा मैदान में आ चुके हैं।

यह भी पढ़ें- दो नौजवानों के साथ सड़क हादसे का दिखा ऐसा खौफनाक नजारा कि लोगों का भी भर आया दिल

इस दौरान सभा में शेर सिंह राणा ने मंच पर जैसे ही बोलना शुरू किया तो वहां लाखों की भीड़ ने राजपूताना जिंदाबाद के नारे लगाकर उनका जोरदार स्वागत किया। अपने भाषण में शेर सिंह राणा ने कहा कि यदि सब राजपूत और सवर्ण वर्ग के लोग एक साथ मिलकर उनका साथ दें तो सामान्य वर्ग के लिए एक नई पहचान साबित हो सकती है। बहराल शेर सिंह राणा ने आज के जन आंदोलन में पहुंची भीड़ के उत्साह को देखते हुए सभी का समर्थन लेते हुए एक नई पार्टी की घोषणा भी कर डाली । उन्होंने कहा कि अब सभी सामान्य वर्ग एक झंडे के नीचे होकर अपनी पार्टी के नेता को जिताने का कार्य करेंगे। साथ ही मंच से नई पार्टी 'राष्ट्रवादी पार्टी' की घोषणा की। उन्होंने कहा इस पार्टी का झंडा केसरिया और हरे रंग का होगा। उन्होंने कहा कि केसरिया रंग हिंदुओं का प्रतीक है और हरा रंग शांति का भी प्रतीक है, जोकि मुस्लिम भाइयों का भी माना जाता है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी मुस्लिम राजपूतों को भी अपनी पार्टी में शामिल रखेंगे। इसके अलावा उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी में योद्धा कीरत बारी, योद्धा पूंजा भील, हकीम खां सूर ,भामाशाह , पन्ना धाय और आचार्य चाणक्य के वंशजों को भी अपनी पार्टी में शामिल रहेंगे, क्योंकि इन सभी ने हमारे पूर्वज महाराणा प्रताप का आखिर तक साथ दिया था। यानी जिन्होंने हमारे पूर्वजों का सम्मान किया है और उनका आखिरी दम तक साथ दिया है । हम इनके वंशजों के लोगों को भी साथ रखेंगे, जैसे ही शेर सिंह राणा ने अपनी नई पार्टी राष्ट्रवादी पार्टी की घोषणा की तो पूरा रामलीला मैदान राष्ट्रवादी पार्टी जिंदाबाद के जयघोष से गूंज उठा । इस दौरान मंच पर लगे होडिंग में भी महाराणा प्रताप की तस्वीर के अलावा उनके साथ-साथ कीरत बारी पूंजा भील हकीम खां सूर भामाशाह पन्नाधाय और आचार्य चाणक्य की तस्वीर भी दिखाई दी।

बुलंदशहर हिंसाः पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी, चार और शातिर आरोपी पहुंचे सलाखों के पीछे

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी का मुख्य कार्यालय गाजियाबाद के अंदर ही बनेगा और जल्द ही पूरी पार्टी की कार्यकारिणी गठित की जाएगी। सभी जिले में कार्यकारिणी बनाकर सबसे पहले पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पार्टी को मजबूत किया जाएगा।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned