आज और कल दिल्ली जाने वाली सड़कों पर ट्रैक्टर राज, भूलकर भी न निकले इन मार्गों से

यमुना एक्सप्रेसवे पर 26 तक ट्रैक्टर चढ़ने पर लगाई रोक

By: lokesh verma

Published: 25 Jan 2021, 04:37 PM IST

गाजियाबाद/मथुरा. 26 जनवरी को दिल्ली में होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड को लेकर किसान संगठनों ने सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली हैं। दिल्ली की तरफ जाने वाली सड़कों पर ट्रैक्टर ही ट्रैक्टर नजर आ रहे हैं। वहीं इन्हें रोकने के लिए सरकार हरसंभव प्रयास कर रही है। किसानों को रोकने के लिए यमुना एक्सप्रेसवे पर जहां 26 जनवरी तक ट्रैक्टरों के चढ़ने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, शासन स्तर से ट्रैक्टर-ट्रॉली के लिए डीजल नहीं देने के आदेश जारी कर दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें- भारी लाव-लश्कर के साथ दिल्ली रवाना हुए भाकियू चीफ चौधरी नरेश टिकैत

गौरतलब है कि अपनी मांगों को लेकर दिल्ली बॉर्डर पर बैठे किसानों को समर्थन देने के लिए देशभर से किसान दिल्ली की तरफ बढ़ रहा है। ट्रैक्टर रैली के चलते गाजीपुर बॉर्डर, पेरिफेरल एक्सप्रेसवे समेत बागपत रोड समेत दिल्ली जाने वाले रास्तों पर जाम की स्थित बन गई है। आम लोग 26 जनवरी तक भूलकर भी इन रास्तों ने गुजरें वर्ना जाम का सामना करना पड़ सकता है।

इसी को लेकर शनिवार को मथुरा में पुलिस और यमुना एक्सप्रेस-वे अधिकारियों की एक बैठक हुई थी, जिसमें एसडीएम श्याम अवध चौहान और सीओ धर्मेंद्र चौहान ने मथुरा टोल प्लाजा के अधिकारियों को किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए नाकेबंदी करने के दिशा निर्दश दिए थे। इसके बाद से दिल्ली की तरफ जाने वाले मार्गों पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पैदल मार्च करने वालों का पुलिस रोक रही है तो टोल प्रबंधन ट्रैक्टरों को रोक रहा है।

टिकैत बोले- जहां हो, वहीं सड़क जाम कर धरने पर बैठ जाओ

वहीं, भाकियू राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने रविवार को सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वेस्ट यूपी के कई जिलों से किसानों के लगातार फोन आ रहे हैं कि उन्हें पेट्रोल पंपों पर डीजल नहीं दिया जा रहा है। इसके बाद उन्होंने सभी किसानों सेे अपील करते हुए कहा था कि वह जहां भी हों, वहीं सड़कें जाम कर धरने पर बैठ जाएं। इस संबंध में मेरठ के जिला पूर्ति अधिकारी नीरज सिंह ने सफाई देते हुए कहा है कि शासन के आदेश पर सुरक्षा को लेकर विशेष सतर्कता बरती जा रही है। बोतल, ड्रम और कृषि यंत्र लगे वाहनों में डीजल देने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

यह भी पढ़ें- ट्रैक्टर परेड में जाने वाले किसानों की निगरानी कर रहा खुफिया विभाग

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned