सीएम योगी ने किया प्रदेश के सबसे बड़े ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन, देखें वीडियो

Highlights

- ऑक्सीजन प्लांट से 200 टन गैस का प्रतिदिन उत्पादन होगा

- गाजियाबाद समेत पूरे एनसीआर के लोगों को होगा फायदा

- CM Yogi के आदेश पर समय से पहले शुरू हुआ आक्सीजन प्लांट

By: lokesh verma

Published: 08 Oct 2020, 01:24 PM IST

गाजियाबाद. कोरोना काल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद समेत एनसीआर के लोगों को बड़ी सौगात दी है। गुरुवार को मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सबसे बड़े ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ किया। इस प्लांट का शुभारंभ खुद सीएम योगी ने ऑनलाइन किया।

यह भी पढ़ें- Air Pollution: इन शहरों में तेजी से बढ़ रहा प्रदूषण, आने वालों दिनों में सांस लेने में हो सकती है परेशानी

बता दें कि गाजियाबाद के थाना भोजपुर क्षेत्र में उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा ऑक्सीजन प्लांट लगाया गया है। जहां से 200 टन गैस का प्रतिदिन उत्पादन किया जाएगा। कोरोना काल के चलते मरीजों में ऑक्सीजन की कमी देखी जाती है। ऐसे में प्लांट उनके लिए संजीवनी के रूप में साबित होगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का यह ड्रीम प्रोजेक्ट था, जिसके चलते डेढ़ साल के भीतर ही इस प्रोजेक्ट को बनाकर तैयार कर दिया गया है। यहां से रोजाना गैस का उत्पादन अस्पतालों तक पहुंचाया जाएगा।

गाजियाबाद के जिला अधिकारी अजय शंकर पांडे ने बताया कि भोजपुर इलाके में एक ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ किया गया है। उन्होंने बताया कि यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है और इसका शिलान्यास जुलाई 2018 में किया गया था। फिलहाल कोविड-19 संक्रमण को फैलने के बाद यह देखा गया कि इस में ऑक्सीजन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। इसकी पूर्ति करने के उद्देश्य से गाजियाबाद के भोजपुर इलाके में यह प्रोजेक्ट लगाया गया। उन्होंने बताया कि इस प्लांट को जल्द से जल्द पूरा करने यानि समय से पूर्व पूरा किए जाने के आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दिए गए थे। उन्होंने बताया कि इस प्लांट में 200 टन प्रतिदिन ऑक्सीजन का उत्पादन होगा और दिल्ली एनसीआर के लोगों को इसका बेहद फायदा मिलेगा।

आइनाॅक्स एयर प्रोडक्ट्स लिमिटेड की इस इकाई में उद्घाटन के बाद ही उत्पादन शुरू हो जाएगा। इसकी उत्पादन क्षमता 200 टन प्रतिदिन है। उन्होंने बताया कि इकाई में करीब 150 व्यक्तियों को रोजगार मिलेगा। इकाई प्रदेश के 27 व केंद्र के अधीन 10 बड़े अस्पतालों को आक्सीजन आपूर्ति करेगी। अत्याधुनिक तकनीक से लैस इकाई चार अलग-अलग मोड पर संचालित की जा सकती है।

यह भी पढ़ें- Indian Air Force Day: वायुसेना ने दुनिया को दिखाई अपनी ताकत, आसमान में जमकर गरजा राफेल

coronavirus Coronavirus Outbreak
Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned