मोबाइल टावर पर चढ़ा युवक, बोला- कैश दो नहीं तो कूद जाऊंगा

मोबाइल टावर पर चढ़ा युवक, बोला- कैश दो नहीं तो कूद जाऊंगा
mobile tower

sandeep tomar | Publish: Dec, 20 2016 08:20:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

कई दिनों से बैंक जा रहा था युवक लेकिन नहीं मिला पैसा

बुलंदशहर। सरकार भले ही नोटबंदी के बाद हालात सामान्य होने का दावा कर रही हाे लेकिन हकीकत इससे परे है। बुलंदशहर के अहार में कैश ना मिलने से नराज एक युवक मोबाइल टावर पर जा चढ़ा। युवक को नीचे उतारने के लिए लोगों की भारी भीड़ जुट गई लेकिन युवक, कैश दो नहीं तो कूद जाऊंगा की रट लगाये रहा। लोगों के काफी समझाने के बाद युवक मोबाइल टावर से नीचे उतरा।

रोज जाता था बैंक

मामला बुलंदशहर के आहर थाना क्षेत्र का है। दीपक नाम का युवक कैश लेने के लिए पिछले कई दिनों से बैंक के चक्कर काट रहा था। कभी कैश न होने का तो कभी कैश न आने का बोर्ड मिलता तो कभी कैश खत्म होने का। दीपक न बताया कि रोज बैंककर्मी कोई न कोई बात बताकर वापस भेज देते थे। दीपक की मानें तो दिसम्बर का महीना खत्म होने को है लेकिन उसे अपने खेत में फसल बोने के लिए अभी तक बीज, खाद नहीं मिल सका है क्यों कि उसके पास नई कैरेंसी नहीं है।

मोबाइल टावर पर चढ़ा

मंगलवार को दीपक अहार के चरौरा स्थित ओरियंटल बैक में कैश लेने पहुंचा था। लेकिन बैंक में नो कैश का बोर्ड लगा हुआ था। कैश न मिलने से आहत होकर दीपक बैंक के पास लगे मोबाइल टावर पर चढ़ गया और कूद कर जाने देने या कैश देने की मांग करने लगा। लोगों ने जब दीपक को टावर पर चढ़ा हुआ देखा तो उसे समझा बुझाकर नीचे उतार लिया, लेकिन दीपक को कैश नहीं मिल सका। बता दें कि केन्द्र सरकार द्वारा नोटबंदी को 42 दिन बीत चुके हैं लेकिन हालात सामान्य होते दिख नहीं दे रहे हैं। ग्रामीण इलाकों में नोटबंदी का काफी असर पड़ा है। बैंक तक कैश न पहुंचने की समस्या तो आम हो गई है।

20 दिन से लगा रहा था चक्कर

दीपक की मानें तो वह ओरियंटल बैंक के चक्कर पिछले 20 दिनों से लगा रहा था। उसे खेत में फसल बोने के लिए 10 हजार रुपए की आवश्यकता थी। दीपक इसके लिए कई बार बैंक की लाइन में लगा लेकिन दीपक को कैश नहीं मिल सका।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned