डिप्टी CM दिनेश शर्मा ने दिलाई शपथ, हजारों यूथ के वंदेमातरम् से गूंजा गाजियाबाद, ये स्टार भी हुए शामिल-देखें वीडियो

Rahul Chauhan

Publish: Dec, 07 2017 07:29:44 (IST) | Updated: Dec, 07 2017 07:31:37 (IST)

Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि योगी सरकार समाज के मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए काम कर रही है।

गाजियाबाद। कविनगर स्थित रामलीला मैदान में आज वॉइस ऑफ यूनिटी वंदेमातरम कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें 300 स्कूलों के हजारों की तादात में पहुंचे छात्रों ने वंदेमातरम् और राष्ट्रगान गाकर गाजियाबाद को देशभक्ति की आवाज से गुंजाय़मान हो गया।

कार्य़क्रम में उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने नैतिकता और समाजिक मूल्यों का निर्वाह किए जाने की शपथ दिलाई। इस दौरान इंडियन आयडल विनर सिंगर अभिजीत सांवत, गायक समीत त्यागी, कत्थक गुरू तपन राय, सुमना बनर्जी और बनारस घराने के बांसुरी वादक चेतन ने समा बांधते हुए माहौल को देशभक्ति से सराबोर कर दिया।

सिंगर अभिजीत सांवत की आवाज को सुनकर हजारों की तादाद में पहुंचे युवाओं ने हाथ हिलाकर उनका स्वागत किया। अभिजीत ने मां तुझे सलाम समेत कई देशभक्ति गाने गाए। इसके बाद गाजियाबाद के लोगों से स्वच्छता एप्प को डाउनलोड करके गाजियाबाद और भारत को बेहतर बनाने की बात कही। अभिजीत ने लोगों से कहा कि मध्यप्रदेश के देवास में एक साथ छह हजार लोगों ने एप्लीकेशन को डाउनलोड किया था। अब इसी मुहिम का असर महानगर गाजियाबाद में भी दिखना चाहिए।

Vandemataram

डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि योगी सरकार समाज के मूल्यों को बढ़ावा देने के लिए काम कर रही है। इसके लिए छात्रों के पाठ्यक्रम में संस्कृत और योगा को शामिल किया गया है। हमारे समाज में पहले भी मां रोती थी और आज भी रोती है। सुप्रीम कोर्ट तक में मां को अपनी रोटी के लिए लड़ना पड़ता है। इसके पीछे वजह है कि हमारे समाज के नैतिक मूल्यों में कमी आई है। आज हमें समाज में पश्चिम सभ्यता को अपनाते जा रहे हैं। इसकी वजह से नारी समाज का हमारे जिंदगी में सम्मान कम होता जा रहा है। इसी की वजह से सरकार को एंटी रोमिया को लाना पड़ा। यूपी सरकार युवतियों को इसी लिए ताईक्वांडो की ट्रेनिंग दे रही है ताकि वो खुद आत्मनिर्भर बन सके।

भारत ऐसा देश है जो अपने दुश्मनों के अच्छे कल के लिए कामना करता है। यहां खाने से पहले सभी लोग विश्व का कल्याण होने की बात कहते है। फिर चाहे इसमें चीन हो या पाकिस्तान हम सबका भला चाहते हैं। भारत अपनी संस्कृति के लिए देशभर में जाना चाहता है। भारत या कहीं पर भी कोई धर्म नहीं होता। सबसे पहले प्रवाह का नम्बर आता है। वंदेमातरम् कार्यक्रम के समन्वयक गुणवता कोठारी और संयोजक ललित जाय़सवाल ने कहा कि नैतिकता की वजह से ही देश जगत गुरू के रूप में नाम कमा रहा है। क्योंकि भारतवर्ष के अंदर अपनी संस्कृति है। देशभक्ति की भावना जाग्रत करना कार्य़क्रम का उद्देश्य है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned