फ्रांस से गाजियाबाद लौटे डॉक्टर ने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने से किया इंकार, स्वास्थ्य विभाग जांच में जुटा

Highlights

. फ्रांस से लौटने के बाद डॉक्टर को हुई थी जुकाम और बुखार की शिकायत
. जांच के लिए सैंपल के लिए सीएमओ को किया फोन
. गाइडलाइन के मुताबिक उपचार करने की दी सलाह

By: virendra sharma

Updated: 19 Mar 2020, 02:51 PM IST

गाजियाबाद। फ्रांस से वसुंधरा लौटे एक डॉक्टर को सर्दी जुकाम हो गया। जांच के लिए उन्होंने सीएमओ कार्यालय से फोन किया। उन्हें आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने के लिए कहा गया। उसके बाद उनका सैंपल लिए जाने की बात कहीं गई। लेकिन यह बात डॉक्टर को नागवार गुजरी और उन्होंने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने से इंकार कर दिया। उनके ससुर द्वारा सीएमओ को फोन किया गया और उनसे कहा गया कि वह मानव अधिकार आयोग में है।

यह भी पढ़ेंः BMW कार लूट का हुआ खुलासा तो मालिक ही निकला 'लुटेरा', जानिए क्या है पूरा मामला

मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेंद्र कुमार गुप्ता ने बताया कि वसुंधरा में रहने वाले एक कार्डियक सर्जन विदेश से लौटे हैं। जुकाम और बुखार की शिकायत होने पर उन्होंंने सैंपल लेने के लिए फोन किया। उन्होंने बताया कि डॉक्टर को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होने की सलाह दी गई। लेकिन वे तैयार नहीं हुए। उलटा उनके ससुर मानव अधिकार आयोग में होने बात कहकर सैंपल घर से कलेक्ट करने की जिद पर अड़ गए। मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा कहा गया कि वह पूरी गाइडलाइन के अनुसार ही उनके सैंपल लेंगे। उन्हें हर हाल में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती होना होगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी का कहना है कि फिलहाल डॉक्टर घर ही सैंपल लेने की जिद पर अड़े हुए है। अभी तक अस्पताल नहीं आए है। उन्होंने बताया कि अब स्वास्थ्य विभाग की एक टीम उनके घर जाकर साथ लेकर आएगी।

virendra sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned