अक्षय तृतीय 2018: लक्ष्मी मां की कृपा को पाने के लिए करे ये काम, सालभर रहेगी मौज

अक्षय तृतीय 2018: लक्ष्मी मां की कृपा को पाने के लिए करे ये काम, सालभर रहेगी मौज

Iftekhar Ahmed | Publish: Apr, 17 2018 04:52:38 PM (IST) | Updated: Apr, 17 2018 04:55:08 PM (IST) Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

भूलकर कर बिना स्नान किए न छुए तुलसी का पौधा, वरना हो जाएगा नुकसान

गाजियाबाद। हिंदू धर्म में 18 अप्रैल को अक्षय तृतीय का त्यौहार विशेष रूप से मनाया जाता है। ऐसी मान्यता है कि अगर कुछ शुभ काम करना है तो इस दिन ही करना चाहिए ताकि उसका अच्छा फल मिल सके। शुभ मुहुर्तो में इसे सबसे ज्यादा पवित्र माना गया है। ज्योतिषाचार्यो के मुताबिक इस दिन मां लक्ष्मी की विधिवत तरीके से पूजा अर्चना करना चाहिए। इसके बाद में गरीब लोगों को खाना खिलाना और दान करना चाहिए। अक्षय तृतीया पर सोने की खरीददारी करने से मां लक्ष्मी खुश होती है और सालभर उस पर पूरे साल बरसती रहती है।

यूपी के इस जनपद को सबसे प्रदूषित शहर का तमगा मिलने के बाद सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम

अक्षय तृतीया पर ऐसे करे पूजा पाठ

18 अप्रैल को अक्षय तृतीया है इस दिन किस तरह लोगों को पूजा करनी चाहिए। इस दिन कई बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। गाजियाबाद के प्रसिद्ध प्राचीन दूधेश्वर नाथ मठ के महंत नारायण गिरी महाराज ने बताया कि मां लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने के लिए पूजा अर्चना की जाती है। सुबह स्नान करने के बाद लोगों को तुलसी के पौधे की पूजा करनी चाहिए । तुलसी के पौधे के पास गाय के घी का दीपक एवं धूपबत्ती आदि जलाकर साथ में मिष्ठान का भोग लगाकर मां लक्ष्मी जी की आराधना करनी चाहिए।

डॉग के कान पर बजाई सीटी तो हो सकता है ये अंजाम

इन बातों का रखे ख्याल वरना होगा नुकसान
मंहत नारायण गिरी के मुताबिक अक्षय तृतीया पर कुछ ऐसी बातें हैं जिनका लोगों को खास ध्यान रखना चाहिए वरना मां लक्ष्मी प्रसन्न होने के बजाय उल्टा नाराज भी हो जाती है। इस दिन बिना स्नान करें तुलसी के पौधे को नहीं छूना चाहिए यानी इस दिन शुद्धता का विशेष ध्यान रखना चाहिए। पत्तों को तोड़ना नहीं चाहिए। पूजा के वक्त पूजा करने वाले को क्रोध नहीं आना चाहिए यदि उस वक्त वो किसी बात पर क्रोध में रहता है को उल्टा फल प्राप्त होता है।

Ad Block is Banned