scriptfarmers protests ends delhi border will open from december 11 | किसान आंदोलन खत्म करने का ऐलान, 11 दिसंबर से खुलेगा दिल्ली बॉर्डर | Patrika News

किसान आंदोलन खत्म करने का ऐलान, 11 दिसंबर से खुलेगा दिल्ली बॉर्डर

कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा के बाद आंदोलन (Farmers Protest) कर रहे किसानों की अन्य मांगों पर भी सरकार ने सहमति जता दी है, जिससे अब तमाम किसान बेहद खुश हैं। संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक के बाद निर्णय लिया गया कि 11 दिसंबर को दिल्ली बॉर्डर (Delhi Border) खाली कर दिए जाएंगे। इस घोषणा से रोजाना दिल्ली आने जाने वाले लोग भी बेहद खुश हैं।

गाज़ियाबाद

Published: December 09, 2021 04:21:59 pm

गाजियाबाद. कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा के बाद आंदोलन (Farmers Protest) कर रहे किसानों की अन्य मांगों पर भी सरकार (Government) ने सहमति जता दी है, जिससे अब तमाम किसान बेहद खुश हैं। संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) की बैठक के बाद निर्णय लिया गया कि 11 दिसंबर को सभी दिल्ली बॉर्डर (Delhi Border) खाली कर दिए जाएंगे। बॉर्डर खाली होते ही दिल्ली आने-जाने वाले करीब 13 महीने 5 दिन बाद दोबारा से पहले की तरह ही दिल्ली की सीमा में आसानी से प्रवेश कर सकेंगे। बॉर्डर खाली किए जाने की घोषणा के बाद से दिल्ली आने जाने वाले लोग भी बेहद खुश नजर आ रहे हैं। लोगों का कहना है कि अब वह समय पर अपने काम धंधे पर आ-जा सकते हैं। बता दें किसान आंदोलन के चलते रोजाना दिल्ली आने-जाने वालों को कई किलोमीटर जाम के बीच अतिरिक्त सफर करना पड़ रहा था।
farmers-protests-ends-delhi-border-will-open-from-december-11.jpg
उल्लेखनीय है कि सरकार ने करीब एक साल पहले तीन नए कृषि कानून बनाए गए थे। किसान तीनों कानूनों का शुरुआत से ही लगातार विरोध कर रहे थे। इस दौरान किसानों ने तमाम तरह से प्रदर्शन किया, ताकि सरकार किसानों की बात सुन सके और सभी कानून वापस लिए जाएं। लेकिन, एक तरफ सरकार झुकने को लिए तैयार नहीं थी तो वहीं दूसरी तरफ किसान भी अपनी बात पर अडिग रहे। बड़ी संख्या में इकठ्ठा होकर किसानों ने दिल्ली के बॉर्डर घेर लिए। उसके बाद 5 नवंबर 2020 को संयुक्त किसान मोर्चा और भारतीय किसान यूनियन के अलावा अन्य कई किसान संगठनों के बैनर तले बड़ी संख्या में किसान बॉर्डर पर ही धरने पर बैठ गए। करीब साल भर के अंदर तमाम तरह की गतिविधियां भी किसानों ने की, लेकिन किसानों को कोई कामयाबी नहीं मिल पाई। इस आंदोलन के दौरान करीब 700 किसानों की मौत भी हुई। जिसके बाद किसान आंदोलन और उग्र हो गया। आखिरकार नतीजा यह निकला कि सरकार को बैकफुट पर आना पड़ा और किसानों की बड़ी जीत हुई।
यह भी पढ़ें- Farmers Protest : धरने के दौरान हंगामा, 700 किसानों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

सभी मुद्दों पर सहमति बनी

आखिरकार अचानक की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानून वापस लिए जाने की घोषणा की। इस घोषणा के बाद किसानों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इसके बावजूद किसान बॉर्डर खाली करने को राजी नहीं थे। उन्होंने साफ-साफ कह दिया था कि जब तक सरकार उनकी अन्य मांगों को नहीं मानेगी, आंदोलन जारी रहेगा। इस दौरान किसानों ने तमाम तरह के मुद्दे सरकार के सामने रखे। किसानों के सभी मुद्दों पर अब सहमति बनती हुई नजर आ रही है। बॉर्डर खाली करने को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के साथ 9 दिसंबर को एक बैठक हुई है, जिसमें निर्णय लिया गया कि अभी तक जो भी मुद्दे सरकार के सामने रखे गए हैं, सभी मुद्दों पर सहमति बन गई है।
11 दिसंबर को दिल्ली के सभी बॉर्डर पहले की तरह खुलेंगे

किसानों का कहना है कि अभी भी कुछ मुद्दे हैं, जिन पर सरकार से बात करनी बाकी है। फिर भी संयुक्त किसान मोर्चा के साथ हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि 11 दिसंबर को दिल्ली के सभी बॉर्डर पहले की तरह ही खोल दिए जाएंगे। किसान नेताओं का कहना है कि जब तक सभी किसान सुरक्षित अपने घर नहीं पहुंच जाते, तब तक दिल्ली के बॉर्डर खाली नहीं होंगे। खासतौर से गाजीपुर बॉर्डर से बेरिकेडिंग उस वक्त हटाई जाएगी। जब सभी किसान अपने घर सुरक्षित पहुंच चुके होंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करप्रधानमंत्री 5 फरवरी को हैदराबाद में रामानुजाचार्य की 216 फुट ऊंची प्रतिमा का करेंगे अनावरण, 120 किलो सोने से बनी है ये प्रतिमातीन तलाक मामला-फोन पर बोला और तोड़ दिया रिश्ताAadhaar Card में अपडेट करना चाहते हैं नया मोबाइल नंबर, फॉलो करें यह आसान तरीका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.