Video: Ghaziabad Police करती रही एनकाउंटर, बदमाश कर गए महिला ग्राम प्रधान के बेटे की हत्‍या

Video: Ghaziabad Police करती रही एनकाउंटर, बदमाश कर गए महिला ग्राम प्रधान के बेटे की हत्‍या

sharad asthana | Updated: 15 Jul 2019, 09:36:25 AM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

  • लोनी थाना क्षेत्र के महमूदपुर गांव में बदमाशों ने प्रधान के बेटे को गोलियों से भूना
  • एक साल पहले ही नीमिका जेल से छूटकर आया था विक्रम कसाना
  • हरियाणा में जज की हत्‍या के मामले में जेल गया था ग्राम प्रधान का बेटा

गाजियाबाद। जनपद में पुलिस भले ही लगातार एनकाउंटर कर बदमाशों की धरपकड़ में लगी हो, लेकिन बदमाश वारदात करने से बाज नहीं आ रहे हैं। रविवार रात को लोनी थाना क्षेत्र के महमूदपुर गांव में ग्राम प्रधान के बेटे को बदमाशों ने गोलियों से भून दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस अधिकारी का दावा है कि जल्द ही इस मामले का खुलासा करते हुए हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: NOIDA: 8 साल से नहीं भरी सूनी गोद तो दंपति ने कर लिया 6 साल के मासूम का अपहरण, छह माह पहले ही कर ली थी प्लानिंग

तीन बदमाशों ने की वारदात

मेहमूदपुर गांव में महिला ग्राम प्रधान जगवती रहती हैं। उनके बेटे का नाम विक्रम कसाना (35) है। रविवार रात को तीन लोग बाइक पर सवार होकर आए थे। उन्होंने इस वारदात अंजाम दिया था। गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर सिंह ने बताया कि रविवार रात करीब साढ़े आठ बजे तीन बदमाश बाइक पर सवार होकर आए थे। उस समय महमूदपुर में रहने वाला महिला ग्राम प्रधान जगवती का 35 वर्षीय बेटा विक्रम घर के बरामदे में बैठा हुआ था। इस दौरान तीनों बदमाशों ने उसके ऊपर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इसके बाद विक्रम जमीन पर गिर गया। उसे आनन-फानन में अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्‍ते में विक्रम ने दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें: मस्जिद के इमाम की कथित तौर पर युवकों ने दाढ़ी नोंची, 'जय श्री राम' कहने को किया मजबूर

हिस्‍ट्रीशीटर था विक्रम

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने विक्रम के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। एसएसपी के मुताबिक, विक्रम कसाना हिस्ट्रीशीटर था। उसकी पहले से ही कई लोगों से रंजिश चल रही थी। पुलिस इस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है। यह भी देखा जा रहा है क‍ि विक्रम की किन लोगों से दुश्मनी चल रही थी। शुरुआत में परिजनों ने कुछ नाम बताए हैं। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है। वहीं, बताया जा रहा है क‍ि विक्रम एक साल पहले ही नीमिका जेल से छूटकर आया था। विक्रम पर हरियाणा के कई जिलों में हत्‍या समेत कई मामले दर्ज हैं। पूर्व में वह हरियाणा में जज की हत्‍या के मामले में जेल गया था।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned