दिल्ली से अपहृत बच्चे को गाजियाबाद पुलिस ने खोड़ा कालोना से किया बरामद

दिल्ली से अपहृत बच्चे को गाजियाबाद पुलिस ने खोड़ा कालोना से किया बरामद

Iftekhar Ahmed | Publish: Sep, 08 2018 03:52:52 PM (IST) Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

अपहरणकर्ताओं ने बच्चे के परिजनों से मांगी थी 2 करोड़ की फिरौती

गाजियाबाद. खोड़ा कॉलोनी थाने की पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने दिल्ली के अशोक विहार इलाके से अपहरण किए गए 12 साल के बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया है। पुलिस ने इस पूरे मामले में पांच आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है । इनमें से दो आरोपी बच्चे के पिता के यहां किराना की दुकान पर काम कर चुके हैं। बताया जाता है कि इन लोगों ने वहीं रहते हुए अपने मालिक के बेटे का अपहरण किए जाने की साजिश रच डाली थी । इसके बाद इन लोगों ने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर दिल्ली मयूर विहार फेस- 3 स्थित विद्या बाल भवन के सामने से 7 सितंबर को उस वक्त अपहरण कर लिया था, जब कक्षा 7 में पढ़ने वाला 12 वर्षीय छात्र अपने घर वापस लौट रहा था।

यह भी पढ़ें- पीएम मोदी के इस मंत्री ने की बड़ी घोषणा, यह काम होने के बाद बदल जाएगी दोनों शहरों की किस्मत

मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली के अशोक विहार इलाके में विद्या बाल भवन स्कूल है। इसमें दिल्ली के किराना के कारोबारी अजय गुप्ता का 12 वर्षीय बेटा कक्षा 7 में पढ़ता है । वह 7 सितंबर को अपने स्कूल से घर जा रहा था । इसी दौरान पूर्व में अजय गुप्ता की किराना की दुकान पर काम करने वाले आकाश चौधरी और राजा गौड़ ने अपने अन्य तीन साथियों की मदद से बच्चे का अपहरण कर लिया और उसे गाजियाबाद के खोड़ा कॉलोनी में एक मकान में लाकर रख दिया। अपहरण के बाद अपहरणकर्ताओं द्वारा बच्चे के पिता से 2 करोड़ रुपए की फिरौती की भी मांग की गई । इसके बाद बच्चे के पिता अजय गुप्ता ने अशोक विहार थाने मेंमुकदमा दर्ज करा दिया। मामला दर्ज होने के बाद ही पुलिस हरकत में आ गई और बच्चे की तलाश शुरू कर दी। उधर दिल्ली पुलिस भी बच्चे की खोजबीन में जुटी थी। इसके बाद पुलिस ने अपहरणकर्ताओं तक पहुंचने के लिए जाल बिछाया दिया, लेकिन जैसे ही गाजियाबाद के थाना खोड़ा कॉलोनी पुलिस को इसकी सूचना मिली तो पुलिस ने बच्चे को खोड़ा कॉलोनी के एक फ्लैट से सकुशल बरामदकर लिया। इसके अलावा पुलिस ने अपहरण करने वाले पांचों आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया है ।

यह भी पढ़ेंः समलैंगिक संबंधों को सही ठहराने पर भाजपा के इस नेता ने दिया चौंकाने वाला बयान

पुलिस ने इन पांचों आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद गहन पूछताछ की तो मामला चौंकाने वाला सामने आया। दरसल, गिरफ्तार किए गए पांचों आरोपियों ने बताया कि इनमें से आकाश चौधरी और राजा गौड़ नाम के आरोपी पूर्व में बच्चे के किराना के कारोबारी पिता के यहां नौकरी कर चुके हैं । उन्होंने वहीं से बच्चे के अपहरण की साजिश रची थी। गिरफ्तार किए गए आरोपियों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने बच्चे को छोड़ने के एवज में बच्चे के परिजनों से 2 करोड़ रुपए की फिरौती की भी मांग की थी, लेकिन इन अपहरणकर्ताओं की सारी साजिश उस वक़्त नाकाम हो गई । जब पुलिस ने अपना जाल बिछाते हुए इन पांचों आरोपियों को धर दबोचा और बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया।

Ad Block is Banned