बड़ी खबर: गिरफ्तार हुआ यह एसपी, कर रहा था ऐसा काम कि पुलिस विभाग में मच गया हड़कंप

पुलिस ने एक आईपीएस अधिकारी को गिरफ्तार किया है।

By: Kaushlendra Pathak

Published: 13 Mar 2018, 02:20 PM IST

हापुड़। यहां एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने पूरे पुलिस महकमे में हहाकार मचा दिया है। जी हां, यूपी पुलिस ने एक ऐसे आईपीएस अधिकारी (एसपी) को गिरफ्तार किया है, जो लोगों से उगाही और धोखाधड़ी कर रहा था। वहीं, जब पुलिस ने उससे पूछताछ की कई शॉकिंग खुलासे हुए।

फर्जी आईपीएस बनकर कर रहा था उगाही

मामला गाजियाबाद के हापुड़ का है। जानकारी के मुताबिक, हापुड़ के थाना हाफिजपुर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है पुलिस ने एक कथित फर्जी आईपीएस को गिरफ्तार किया है जो कि पुलिस और जनता से आईपीएस बनकर अवैध उगाही और धोखाधड़ी किया करता था। बताया जा रहा है की ये कथित फर्जी आईपीएस मेरठ के परीक्षितगढ़ का रहने वाला है। अपने आप को महाराष्ट्र का आईपीएस बताकर हाफिजपुर थाने के एसओ रवि रत्न से अपनी खराब गाड़ी को ठीक कराने के लिए 50 हजार रुपये मांग रहा था। जब पुलिस को इस कथित फर्जी आईपीएस पर शक हुआ तो पुलिस ने उसे दबोच लिया। गिरफ्तार फर्जी आईपीएस के पास से विजिटिंग कार्ड भी बरामद हुए हैं।

पुलिस अधिकारी से ही मांग रहा था 50 हजार रुपये

पिलखुआ डीएसपी पवन कुमार ने बताया कि विशांक त्यागी नामक शख्स सोमवार को हाफिजपुर थाने में गया और खुद को महाराष्ट्र का आईपीएस बताने लगा। जब थाने की पुलिस को इसने महाराष्ट्र का आईपीएस बताया तो पुलिस के होश उड़ गए और थाने में अफरा-तफरी मच गया। ये कथित फर्जी आईपीएस पुलिस से थाने में अपनी खराब गाड़ी ठीक कराने के लिए 50 हजार रुपये मांगने लगा। थाने में कथित आईपीएस देख पुलिस के होश उड़ गए और पुलिस को इस फर्जी आईपीएस विशांक त्यागी पर शक हुआ तो पुलिस ने इसकी जानकारी लेनी शुरू कर दी। जब पुलिस ने इससे जानकारी ली तो फर्जी आईपीएस विशांक त्यागी ने तोते की तरह अपने राज उगल दिए और पुलिस को अपने बारे में सब कुछ बता दिया। वहीं, इसकी हकीकत सुनकर पुलिस की आंख खुली की खुली रह गई। पुलिस ने अपने सीनियर अफसर को इस मामले में अधिकारियों को जानकारी दी। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned