किसान महापंचायत में बेरोजगारी व महंगाई को मुद्दा बना यूपी में चुनावी जमीन तैयार करेंगे केजरीवाल

Highlights

- पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ में 28 फरवरी को होगी किसान महापंचायत

- किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए आप नेताओं झोंकी पूरी ताकत

- किसानों के साथ आम लोग भी लेंगे महापंचायत में हिस्सा

By: lokesh verma

Published: 27 Feb 2021, 11:31 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद. किसान आंदोलन को मजबूत करने के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ में 28 फरवरी को किसानों की महापंचायत होगी। इस महापंचायत के जरिये दिल्ली के मुख्यमंत्री किसानों की परेशानी, बेरोजगारी और महंगाई का मुद्दा उठाएंगे। आम आदमी पार्टी जिस तरह से किसान आंदोलन को अपना समर्थन दे रही है, उससे साफ जाहिर है कि कहीं न कहीं अब आम आदमी पार्टी यूपी में भी चुनावी जमीन तैयार कर रही है। आम आदमी पार्टी के नेताओं का कहना है कि मेरठ में होने वाली किसानों की महापंचायत में आम आदमी पार्टी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेगी। किसानों के साथ आम लोगों को भी जोड़ने का प्रयास किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- संत रविदास के बताए रास्ते पर केंद व राज्य सरकारें चलें तभी समाज व देश का भला : मायावती

किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए खुद उत्तर प्रदेश प्रभारी एवं राज्यसभा सदस्य सांसद संजय सिंह, दिल्ली के दर्जनभर से अधिक विधायकों और पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रभारियों के साथ पश्चिम उत्तर प्रदेश में डटे हुए हैं। आप नेता संजय सिंह का कहना है कि मेरठ में होने वाली किसान महापंचायत को आम आदमी पार्टी प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल समेत कई प्रमुख चेहरे संबोधित करेंगे।

माना जा रहा है कि आम आदमी पार्टी की इस रैली का सीधा असर उत्तर प्रदेश के आगामी पंचायत चुनाव और उसके बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में आप की एंट्री को लेकर रहेगा। कहा जा रहा है कि अगर आम आदमी पार्टी की यह किसान महापंचायत सफल हुई तो यह सत्ताधारी पार्टी के लिए खतरे की घंटी होगी। इसलिए आम आदमी पार्टी ने 28 फरवरी को मेरठ में होने वाली किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक रही है।

यह भी पढ़ें- काशी के रविदास मंदिर में सियासी जमावड़ा, धर्मेंद्र प्रधान ने दी हाजिरी, प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव भी टेकेंगे मत्था

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned