Covid-19 Test को लेकर जारी हुआ फरमान, इन जगह करा सकेंगे Corona की जांच

Highlights:

-अभी जिले में सरकारी अस्पताल में ही हो रही जांच

-निजी लैब में भी बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं होगी जांच

-कोरोना के बढ़ते केसों के चलते लिया फैसला

By: Rahul Chauhan

Updated: 17 Jun 2020, 02:05 PM IST

गाजियाबाद। जनपद में कोरोना जांच अभी तक जिला एमएमजी अस्पताल और आईएमएस कॉलेज में बनाये गए बूथ पर ही की जा रही है। इसके अलावा अभी तक जनपद में किसी भी निजी लैब को कोरोना टेस्ट किये जाने की अनुमति नही थी। लेकिन अब एक निजी लैब को भी इस टेस्ट को किये जाने की अनुमति दे दी गयी है। लेकिन इस टेस्ट के लिए भी चिकित्सक द्वारा प्रिस्क्रिप्शन होना आवश्यक है। बगैर चिकित्सक की सलाह के यहां भी टेस्ट होना असंभव है।

यह भी पढ़ें : अस्पताल में डॉक्टर चेकअप या भर्ती करने से करे इंकार तो इन्हें दें सूचना, तुरंत होगा एक्शन

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए गाजियाबाद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी नरेन्द्र कुमार गुप्ता ने बताया कि यशोदा कौशांबी में ही आईसीएमआर द्वारा अनुमोदित कोरोना जांच लैब है, जबकि जिले में कलेक्शन सेंटर के तौर पर काम कर रही नोएडा, दिल्ली और गुड़गांव की निजी लैब पर प्रतिबंध लगा दिया गया है।

यह भी पढ़ें: सीएम योगी आदित्यनाथ का भांजा मिला कोरोना पॉजिटिव, स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

मुख्य चिकित्सा अधिकारी एनके गुप्ता ने बताया कि पिछले महीने 4 निजी लैब पर बायोमेडिकल वेस्ट डिस्पोजल में लापरवाही बरतने और आईसीएमआर के नियमों का पालन नहीं करने पर रोक लगाते हुए जवाब मांगा गया था। इसके साथ ही एक लैब के खिलाफ पॉजिटिव मरीज की सूचना देरी से देने पर एफआईआर भी करवाई गई थी। इसलिए निजी लैब को अनुमति नही दी गई थी। लेकिन अब लोगों की समस्या को देखते हुए एक निजी लैब को भी टेस्ट की अनुमति दे दी गई है। फिलहाल संदिग्ध मरीजों को फीवर क्लीनिक पर पहुंचकर डॉक्टरी सलाह के अनुसार ही जांच करवानी चाहिए।

coronavirus
Rahul Chauhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned