इन स्टेशनों पर लश्कर की बुरी नजर, 6 से 10 जून के बीच दी धमाके की चेतावनी,अगर करनी है इस बीच यात्रा तो पहले देख ले लिस्ट

लश्कर-ए-तैयबा की धमकी के बाद गाजियाबाद में भी पुलिस अलर्ट

By: Ashutosh Pathak

Published: 06 Jun 2018, 03:42 PM IST

गाजियाबाद। इन दिनों देश पर लश्कर-ए-तैयबा ने अपनी बुरी नजर गड़ाए बैठा है। उत्तर प्रदेश के कई शहरों में धमाके की चेतावनी दी गई है, जिसके बाद से पुलिस प्रशासन को अलर्ट जारी कर दिया गया है। पश्चिमी यूपी के भी कई शहरों के रेलवे स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी गई है जिसमें गाजियाबाद को भी अलर्ट कर दिया गया है। जिसके बाद आज पुलिस ने पूरे इलाके के साथ ही रेलवे स्टेशनों पर सघन तलाशी अभियान चाला कर चेकिंग की।

ये भी पढ़ें: रमजान में दारुल उलूम का इफ्तार को लेकर फतवा, कहा-इनके यहां शिया मुसलमानों के इफ्तार पार्टी में जाने पर रोक

दरअसल आतंकवादी संगठन ने देश के कई रेलवे स्टेशन पर अपनी नजर गड़ा दी है। उन्होंने कह है कि वो उनके द्वारा कई रेलवे स्टेशनों को चिन्हित किया गया है, जहां धमका करके बड़ी घटना को अंजाम देंगे। इस धमकी के मद्देनजर देश की आईबी ने पूरे देश के विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर हाई अलर्ट जारी किया है। जिससे गाजियाबाद के रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है। स्टेशन पर सभी आने जाने वाले लोगों का सामना चेक किया जा रहा है और वहां पर दिखाई देने वाले हर एक संदिग्ध व्यक्ति की पूछताछ की जा रही है।

ये भी पढ़ें: बीजेपी नेता बन कर आए दंबगों ने ढाबे में मचाया उत्तपात, महिला को मारी गोली

ट्रेनों मे भी रेलवे पुलिस बल ने सघन चेकिंग अभियान चलाया हुआ है उधर लगातार अनाउंस किया जा रहा है कि यदि किसी भी यात्री को कोई संदिग्ध सामान दिखाई देता है तो उसकी सूचना तुरंत स्थानीय पुलिस या जीआरपी को तत्काल प्रभाव से दें। इसके अलावा यात्रियों से यह भी कहा जा रहा है कि यदि कोई शख्स आपको अजनबी या संदिग्ध लगता है तो उसकी सूचना भी तत्काल प्रभाव से लें ताकि किसी बड़ी अनहोनी घटना होने से रोकी जा सके। बताया जा रहा है धमकी लश्कर के एरिया कमांडर अबू शेख के नाम से दी गई है। जिसमें 6 से 10 जून के बीच हापुड़, सहारनपुर, मेरठ, मथुरा वाराणसी सहित कुल14 रेलवे स्टेशनों को निशाना बनाने की धमकी दी गई है।

ये भी पढ़ें: दिल्ली पर यूपी का करोड़ों का बकाया! वसूलने के लिए नोएडा प्रशासन ने बजवाई डुगडुगी, 24 घंटे की दी मोहलत

इस पूरे मामले में आरपीएफ के अधिकारी नरेंद्र कुमार का कहना है कि हाई अलर्ट की घोषणा होते ही स्टेशन पर तमाम तरह का चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। वहीं स्टेशन पर इतनी चेकिंग देख पहले तो यात्रियों को कुछ समझ नहीं आया हालाकि बाद में वो भी मामले से अनगत हुए तो पुलिस का सहयोग करन लगे। साथ ही सुरक्षा सम्बन्ध मे बात की तो यात्रियों ने सुरक्षा पर अपनी सन्तुष्टि जताई।

ये भी पढ़ें: SBI clerk admit Card 2018: इस तरह से डाउनलोड करें एडमिट कार्ड

 

 

Show More
Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned