छेड़छाड़ व गंभीर पिटाई की शिकार महिला को थाने से भगाकर यूपी पुलिस ने कानून को किया शर्मसार

महिला के मीडिया के सामने आने के बाद दिया कार्रवाई को भरोसा

By: Iftekhar

Published: 06 Oct 2018, 05:19 PM IST

हापुड़. सूबे के मुखिया प्रदेश में महिलाओं के पूरी तरह सुरक्षित होने के दावे करते नजर आते हैं, लेकिन हकीकत ये है कि सूबे में महिलाएं बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। प्रदेश की पुलिस महिलाओं से होने वाले अपराधों पर कितनी सजग है। इसकी बानगी हापुड़ जनपद से आई इस खबर से आसानी से लगाई जा सकती है। जहां दबंगों के कहर से पीड़ित एक महिला पिछले 18 घंटे से अधिक समय से इंसाफ की गुहार लेकर थाने के चक्‍कर काट रही है लेकिन महिला को हापुड पुलिस बार-बार थाने से भगा दे ती है।

यह भी पढ़ेंः सबसे बड़े घोटालेबाज पर फिर कसा शिकंजा, पत्नी के खिलाफ भी सीबीआई कोर्ट में आरोप तय

यह पूरा मामला सिंभावली थाना क्षेत्र का है। यहां रसूखदारों का कहर देखने को मिला है। आरोप है कि रसूखदारों ने बच्चों के बीच हुए मामूली विवाद के बाद एक महिला से घर के बाहर छेडछाड की और उसके कपड़े फाड़ दिए। विरोध करने पर महिला का हाथ तोड़ दिया और महिला के बच्‍चे को भी बुरी तरह पीटा। हैरानी की बात तो ये है कि जब महिला थाने में शिकायत लेकर पहुंची तो पुलिस ने महिला को उसके घायल बच्‍चे सहित थाने से भगा दिया। महिला ने बताया कि देर रात दबंगों ने घर के बाहर उसे अकेला पाकर उसके साथ छेड़छाड़ की और उसे घर के अंदर खींचने की कोशिश की। जब महिला ने विरोध किया तो दबंगों ने महिला का हाथ तोड़ दिया और महिला को बचाने आये उसके बच्‍चे को भी बुरी तरह पीटा।

यह भी पढ़ेंः जंगल राजः बदमाशों ने ट्यूशन पढ़ने जा रहे एक छात्र का दिनदहाड़े शहर में कर लिया अपहरण

इसकी शिकायत महिला ने थाने में की, लेकिन महिलाओं की सुरक्षा का दावा करने वाली हापुड़ पुलिस ने उसे थाने से ही भगा दिया। महिला ने बताया कि वह रास्‍ते से घर को जा रही थी, तभी घर के बाहर गांव के 4 दबंगों ने उसे घर के अंदर खींचने की कोशिश की और उसके कपड़े फाड़ दिए। घटना के वक्‍त वह घर में अकेली थी, उसके पति और देवर बाहर गए हुए थे। इसलिए रसूखदारों के हौंसले बुलंद हैं। महिला पिछले 18 घंटों से थाने के चक्‍कर लगा रही है, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की, जब थाने के चक्‍कर काटती महिला पर मीडिया की नजर पड़ी तब जाकर पुलिस ने कार्रवाई का आश्‍वासन दिया।

Show More
Iftekhar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned