इस शख्स ने छोटी सी बात पर कर दी पिता अौर भार्इ की हत्या, खुलासे के बाद चौंक गये सभी लोग- देखें वीडियो

पुलिस ने एक हफ्ते बाद जांच में खोला बेटे की करतूत का राज

By: Nitin Sharma

Published: 30 Dec 2018, 12:21 PM IST

गाजियाबाद।गाजियाबाद के निवाड़ी इलाके में पिता और पुत्र एवं भाई के रिश्ते उस वक्त तार-तार हो गए।जब एक कलयुगी पुत्र ने ही अपने पिता और सगे बड़े भाई को मौत के घाट उतार दिया।इतना ही नहीं पता हत्या के करीब एक हफ्ते बाद पुलिस ने जांच में किया।जिसमें पता चला कि बेटे ने ही अपने बड़े भार्इ अौर पिता को धारदार हथियार से हत्या कर दी।जब यह हत्या की गर्इ।उस समय इलाके में प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ का दौरा था। वहीं हत्या का खुलासा होते ही परिवार से लेकर पुलिस अधिकारी भी सच्चार्इ सामने आने पर चौंक गये। वहीं पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें-ट्रकों में अवैध रूप से जा रहा था एेसा सामान, एसडीएम ने देखते ही कर दी ये कार्रवार्इ-देखें वीडियो

खेत में इस हाल में मिला था बाप आैर बेटे का शव

इस पूरे मामले का खुलासा करते हुए एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि 23 दिसंबर को जिस दिन थाना निवाड़ी इलाके में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दौरा था।उसी दिन शाम के वक्त पिता और पुत्र को फावड़े से काटकर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया था।और उनका शव खेत में पड़ा मिला था।जांच में पता चला कि इस हत्याकांड को अंजाम देने वाला कोई और नहीं बल्कि पिता का ही छोटा पुत्र सुमित उर्फ बबलू था।जिसने अपने पिता पीतम सिंह और बड़े भाई सुभाष को उस वक्त फावड़े से काटकर मौत के घाट उतारा था।जब यह तीनों लोग अपने खेत में काम कर रहे थे।एसपी सिटी ने बताया कि मृतक पीतम सिंह निवासी ग्राम पैंदा पूर्व सैनिक था।और फिलहाल वह निवाड़ी इलाके में ही एक बैंक में गार्ड की नौकरी किया करता था।

 

इस बात से नाराज होकर पिता आैर भार्इ को किया यह हाल

पीतम सिंह का एक बेटा सुभाष और दूसरा बेटा सुमित उर्फ बबलू था पीतम सिंह के पास 22 बीघा जमीन थी। इसमें से 7 बीघा जमीन पिता ने आरोपी बेटे सुमित के नाम कर दी गई थी ।बाकी जमीन पीतम सिंह ने अपने बड़े बेटे सुभाष के नाम कर दी थी।और सुमित को बेदखल कर दिया गया था। लेकिन सुमित को यह बात नागवार गुजर रही थी।इसी को लेकर सुमित 23 दिसंबर को खेत में काम करने के दौरान सुमित का पिता आैर भार्इ से झगड़ा हो गया।इसबीच ही सुमित उर्फ बबलू ने पास में रखे फावड़े से ही अपने बड़े भाई सुभाष की हत्या कर दी। जब पिता ने इसका विरोध किया।तो बेटे ने पिता पीतम सिंह को भी मौत के घाट उतार दिया।इसके बाद आरोपी मौके से फरार हो गया था।जिसके खिलाफ उसकी भाभी सुधा के द्वारा सुमित उर्फ बबलू के नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी।पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।और एक हफ्ते बाद आरोपी सुमित को गिरफ्तार कर लिया।वहीं जब इस पूरे हत्याकांड का खुलासा हुआ।तो इलाके के लोगों बेहद आश्चर्य में पड़ गये।

Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned