सपा विधायक की छोटी बहन की हत्या से मचा हड़कंप, चौंकाने वाला मामला आया सामने

सपा विधायक की छोटी बहन की हत्या से मचा हड़कंप, चौंकाने वाला मामला आया सामने

Nitin Sharma | Updated: 20 Aug 2019, 05:26:06 PM (IST) Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

मुख्य बातें

  • दो साल पहले ही भाईयों ने गाजियाबाद में की थी बहन की शादी
  • शादी के कुछ समय बाद से ही प्रताडि़त करने लगे थे पति और परिवार के लोग

गाजियाबाद। समाजवादी पार्टी के विधायक ने अपनी छोटी बहन की शादी दो साल पहले ही गाजियाबाद में की थी। आरोप है कि तीन दिन पहले ही आरोपियों बहन को फांसी लगा दी। जिसका पता लगते ही मैनपुरी से गाजियाबाद पहुंचे विधायक ने बहन को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां तीन दिन से अस्पताल में भर्ती विवाहिता की सोमवार सुबह यशोदा अस्पताल में मौत हो गई। वहीं मृतका के भाई ने बहन के आरोपी पति, ससुर और सास के खिलाफ कविनगर थाने में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है।

डॉक्टर दंपति ने इस बात से परेशान होकर बच्चों के साथ खा लिया जहर, जानकर उड़ गये सभी के होश- देखें वीडियाे

दो साल पहले ही की थी बहन की शादी

जानकारी के अनुसार, मैनपुरी जिले के किशनी विधानसभा क्षेत्र के सपा विधायक बृजेश कठेरिया ने अपनी छोटी बहन की शादी 22 नवंबर 2017 को गाजियाबाद के कविनगर निवासी अरुण वर्मा से की थी। अरुण वर्मा मूलरूप से जालौन के रहने वाले है। वह अपने पिता आरएन वर्मा और परिवार के साथ गाजियाबाद के जागृति विहार में रह रहे थे। उन्होंने बताया कि शादी में दामाद को एक कार और आठ लाख रुपये नगद व घरेलू सामान की खरीदारी के लिए दिया था। उन्होंने बताया कि शादी के कुछ दिन बाद तक तो सब कुछ सही रहा, लेकिन कुछ दिन बाद ही ससुराल वाले बहन को दहेज कम देने के ताने देने लगे।

पति की मौत के बाद जेठ और ससुर ने बहु को पहले दिलाया फ्लैट और फिर किया ऐसा काम, अब वायरल हो रहा वीडियो

पांच लाख रुपये की डिमांड पूरी न होने पर कर दी हत्या

विधायक भाई न आरोप लगाया कि बहन के ससुराल वाले उसे धीरे धीरे प्रताडि़त करने लगे। वह ससुराल में परेशान रहने लगी। वहीं शादी के समय उसके पति अरुण वर्मा को अच्छी नौकरी पर बताया था, लेकिन बाद में पता चला कि वह कुछ नहीं करता। इसके साथ ही उसने पांच लाख रुपये लाने के लिए पत्नी पर दबाव डालना शुरू कर दिया। विधायक बृजेश कठेरिया ने बताया कि बहन द्वारा दहेज की मांग के संबंध में फोन से बताया गया था। तब उन्होंने भी अपने ससुर और दामाद से बात कर समझाया था। इसके बावजूद उसके पति, सास और ससुर लगातार उसे दहेज के लिए प्रताडि़त करते थे। और अंत में आरोपियों ने बहन की हत्या कर दी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned