पीस पार्टी ने कृषि बिल के विरोध में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया

गाजियाबाद। पीस पार्टी ने कृषि बिल के विराेध में धरना प्रदर्शन किया। केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए किसानाें ने कहा कि केंद्र सरकार ने कोविड-19 महामारी काल में किसानों के हित को ध्यान में नहीं रखा और आनन-फानन में बिल पास कर दिया। इस बिल की वजह से किसान बर्बादी के कगार पर पहुंच गया है। इस बिल के विरोध में देश के तमाम किसान मजदूर मंडी समिति के कर्मचारी आढ़ती व्यापारी पल्ले दार छोटे व्यापारी और दुकानदार और राजनीतिक पार्टियों में लगातार विरोध कर रही हैं।

By: shivmani tyagi

Updated: 29 Sep 2020, 12:09 AM IST

Ghaziabad, Ghaziabad, Uttar Pradesh, India

पीस पार्टी के जिला अध्यक्ष हाजिर नाजिम खान ने कहा पीस पार्टी राष्ट्रपति महोदय से देश के अन्नदाता किसान और मजदूर के जीवन और सम्मान की रक्षा करें। उक्त बिल पास वापस सदनों को विस्तार से चर्चा करने व कृषि विशेषज्ञ किसान प्रतिनिधियों से वार्ता कर सामंजश बनाने के आदेश कर विधेयक पास किए जाए। उन्होंने कहा कि जिस तरह से यह बिल पास हुआ है जय सीधा-सीधा किसान विरोधी है। इस बिल के पास होने से ऐसा लग रहा है कि किसानों की हत्या की गई है। इन सभी प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पीस पार्टी किसानों की है। लड़ाई को सवैंधानिक संघर्ष के लिए तत्परता से लड़ती रहेगी और मांग करती रहेगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned