सावधान: बच्चों के लिए वायरस ही नहीं मास्क भी नुकसानदायक, जानिए कैसे

बच्चों के लिए केवल वायरस ही खतरनाक नहीं है मास्क भी नुकसानदायक है। न्यूबोर्न केयर यूनिट एसएनसीयू के बाल रोग विशेषज्ञ डा सुरेंद्र आनंद का कहना है कि अगर अधिक देर तक बच्चों काे मास्क लगाया जाए ताे वह भी नुकसान करता है।

By: shivmani tyagi

Updated: 25 Sep 2020, 08:17 PM IST

गाजियाबाद ( ghazibad ) लॉकडाउन भले ही खुल गया हाे लेकिन कोविड-19 (COVID-19 virus ) का खतरा कम नहीं हुआ है बल्कि इससे सचेत रहने की बेहद जरूरत है। खासतौर से बच्चों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग बेहद जरूरी है क्योकि बच्चों को ज्यादा देर मास्क ( face mask ) लगाने से परेशानी हो सकती है।

यह भी पढ़ें: कृषि बिल का विरोध: वेस्ट में फूटा किसानों का गुस्सा, जमकर प्रदर्शन, हाइवे रहे जाम

जिला महिला अस्पताल में सिक न्यूबोर्न केयर यूनिट एसएनसीयू के बाल रोग विशेषज्ञ डा सुरेंद्र आनंद का कहना है कि कोविड-19 संक्रमण से ग्रसित मरीजों को ऑक्सीजन की बेहद आवश्यकता होती है। खासतौर से बच्चों को खेलने के दौरान अतिरिक्त ऑक्सीजन की जरूरत होती है। इसलिए बच्चों को मास्क नहीं बल्कि उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग से रखें ताकि बच्चों को पूरी ऑक्सीजन भी जा सके और कोविड-19 संक्रमण के खतरे से भी बचाया जा सके।

यह भी पढ़ें: यूपी के सहारनपुर में 7 साल के मासूम की अपहरण के बाद हत्या, शव गंदे नाले में फेंका, सामने आई चाैंकाने वाल वजह

डॉ आनंद का कहना है कि कोरोना संक्रमण ज्यादा भीड़ वाले इलाके में जाने से फैलने का खतरा अक्सर बना रहता है। खासतौर से खेल के मैदान में भी बच्चे ज्यादा संख्या में एकत्र होते हैं और यदि वह मास्क का प्रयोग करेंगे तो उन्हें ऑक्सीजन प्रॉपर नहीं मिल पाएगी, जिसके कारण उन्हें अन्य बीमारियों से भी खतरा बना रहेगा कोशिश की जाए कि बच्चों को खेल के मैदान में ना जाने दें या भीड़-भाड़ इलाके से बचा कर रखा जाए।

यह भी पढ़ें: Weather Alert: इस वजह से अब नहीं होगी बारिश, सर्दियों तक झेलनी होगी उमस और गर्मी

डॉकटर आनंद ने बताया कि मास्क पहनकर खेलने के दौरान तेज सांस लेने से बच्चों की सांस की नली पर जोर पड़ता है। बच्चों की सांस नली बड़ों के मुकाबले काफी नाजुक और मुलायम होती है, इसलिए उन्हें सांस लेने में परेशानी हो सकती है। बच्चे सार्वजनिक जगहों पर जाएं तो कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए फिजिकल डिस्टेंसिंग का पूरी सावधानी से पालन कराए खासकर खेलने के दौरान इस बात का ज्यादा ख्याल रखें ताकि बच्चे को सांस लेने में परेशानी न हो।

यह भी पढ़ें: अगर आप भी ऑनलाइन खरीद रहे हैं मोबाइल फोन तो हो जाएं सावधान

पार्क में यदि आसपास कोई न हो तो बच्चे को बिना मास्क लगाए ही खेलने दें। पार्क में जाने के लिए ऐसे समय का चुनाव करें जब पार्क में भीड़ न हो। पार्क के विकल्प के तौर पर घर के आंगन का प्रयोग कर सकते हैं फ्लैट में रहने वालों के लिए बालकनी भी विकल्प का काम कर सकते है, लेकिन बच्चे हर समय बड़ों की निगरानी में रहे यह जरूरी है। खासतौर से घर में रहने वाले सभी लोग साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें और कोशिश करें कि योग भी अपने जीवन में अपनाया जाए तभी इस जानलेवा बीमारी से बचा जा सकता है।

Corona virus COVID-19 virus
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned