भाजपा युवा नेता की आजम खान को चेतावनी, सुधर जायें तो नहीं तो काट देंगे जुबान 

 भाजपा युवा नेता की आजम खान को चेतावनी, सुधर जायें तो नहीं तो काट देंगे जुबान 

भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने एसपी कार्यालय के पास आजम खां का पुतला फूंका

गाजीपुर. समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता व प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री आजम खां के सेना के ऊपर दिये गये  आपत्तिजनक बयान पर गाजीपुर में उनके खिलाफ गुस्सा शुक्रवार को फूट गया। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने एसपी कार्यालय के पास आजम खां का पुतला फूंका। आक्रोशित भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने मांग की कि आजम खां के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जाए। भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य हिमांशु सिंह ने कहा कि सेना का अपमान किसी भी दशा में हिंदुस्तान बर्दाश्त नहीं करेगा और आजम खान नहीं सुधरेंगे, उनकी जुबान काट दी जाएगी। 





उन्होंने कहा कि जब तक आजम खां के खिलाफ कार्रवाई नहीं होगी, तब तक उनका विरोध—प्रदर्शन जारी रहेगा।
भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी कि अगर कार्रवाई नहीं हुई तो वह प्रदेश की राजधानी स्थित सपा का कार्यालय का घेराव करेंगे तथा प्रतीकात्मक विरोध के तौर पर आजम खां का अंतिम संस्कार भी किया जायेगा। सेना पर आजम खां पर आपत्तिजनक बयान से भाजयुमो कार्यकर्ता काफी गुस्से में थे। उन्होंने सपा व आजम खां के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की। इसके बाद उन्होंने एसपी कार्यालय के पास आजम खां का पुतला फूंका।


यह भी पढ़ें: 
राजा भैया के करीबी पर कसा पुलिस का शिकंजा, इस हत्या मामले में दर्ज हुआ मुकदमा


भाजयुमो प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य हिमांशु सिंह ने कहा कि सेना का अपमान किसी भी दशा में हिंदुस्तान बर्दाश्त नहीं करेगा। आजम खां का बयान काफी आपत्तिजनक है। उनके बयान से उनकी घटिया मानसिकता की झलक मिलती है। प्रदेश सरकार जल्द से जल्द आजम खां के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करे। जब तक उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जायेगी, भाजयुमो का विरोध—प्रदर्शन जारी रहेगा। इस दौरान काफी अधिक संख्या में भाजयुमो कार्यकर्ता मौजूद रहे।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned