पंचायत चुनाव प्रत्याशियों की भीड़ में उड़ीं कोरोना प्रोटोकाॅल की धज्जियां

पंचाचयत चुनाव के प्रत्याशियों की चालान बनवाने की भीड़ में जमकर कोरोना की धज्जियां उड़ीं। खुद प्रत्याशियों ने भी माना की कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है।

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजीपुर. देश भर में कोरोना की दूसरी लहर एक बड़ा संकट बनती जा रही है। यूपी में भी मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं। कोविड प्रोटोकाॅल का पालन अनिवार्य बनाते हुए कई सारे प्रतिबंध फिर से लौट आए हैं। पर पंचायत चुनाव में ताल ठोक रहे प्रत्याशियों की भीड़ में कोविड प्रोटोकाॅल की जमकर धज्जियां उड़ रही हैं। इसकी बानगी गाजीपुर में दिखी जहां चालान शुल्क जमा करने के लिये प्रत्याशियों की भीड़ में कोविड प्रोटोकाॅल और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रही थी।

 

दरअल पंचायत चुनाव में प्रत्याशियों का फार्म भरने के लिये रजिस्ट्रेशन शुल्क बैंक चालान के जरिये जमा करना होता है। इस बार कोरोना के खतरे को देखते हुए ऑनलाइन चालान जमा करने की सुविधा दी गई है। बावजूदइ सके प्रत्याशियों की भीड़ ने बैंकों का रुख किया है।

 

कतार में लगे प्रत्याशियों ने भी माना कि यहां कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं हो रहा है। इस बाबत बैंक मैनेजर से पूछने पर पता चला कि उनकी जानकारी में ब्लाॅकों पर ऑनलाइन चालान की रसीद मान्य नहीं की जा रही है। इसलिये लोग बैंक में आ रहे हैं। कहा कि बैंक द्वारा इसकी जानकारी जिला प्रशासन को दे दी गई है। जिला विकास अधिकारी भूषण कुमार ने भी माना कि कुछ ब्लॉक में इस तरह का कन्फ्यूजन रहा है, जिसे अब उसे दूर कर लिया गया है। अब ऑनलाइन शुल्क जमा कर राशिद स्वहस्ताक्षर कर जमा किया जा रहा है।

By Alok Tripathi

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned