गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने यहां अचानक मारा छापा, मची अफरातफरी

गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने यहां अचानक मारा छापा, मची अफरातफरी
निजी अस्पताल पर छापा

Akhilesh Kumar Tripathi | Updated: 23 Aug 2019, 10:18:18 PM (IST) Ghazipur, Ghazipur, Uttar Pradesh, India

छापेमारी के दौरान 6 अधिकारियों की टीम ने कई दस्तावेजों की जांच की

गाजीपुर. सदर कोतवाली इलाके के गंगा घाट के किनारे बने शम्मे हुसैनी हॉस्पिटल एवं ट्रामा सेंटर पर उस समय अफरातफरी मच गई, जब पीएनडीटी एक्ट में की गई शिकायत को लेकर गृह मंत्रालय के अधिकारियों की टीम अचानक वहां छापेमारी करने पहुंच गई । छापेमारी के दौरान 6 अधिकारियों की टीम ने अल्ट्रासाउंड और कई दस्तावेज़ को सील किया। हालांकि मीडिया से बातचीत के दौरान अधिकारी बचते नजर आए।

 

गाजीपुर के गंगा किनारे मानक की धज्जियां उड़ाते हुए शम्मे हुसैनी अस्पताल एवं ट्रामा सेंटर पिछले कई सालों से कार्य कर रहा है । यहां पर अल्ट्रासाउंड द्वारा अवैध ढंग से भ्रूण जांच की शिकायत पीएनडीटी एक्ट के तहत गृह मंत्रालय भारत सरकार से किया गया था, और इस शिकायत को संज्ञान लेते हुए शुक्रवार को गृह मंत्रालय की टीम अचानक इस अस्पताल ने छापेमारी किया। छापेमारी में अल्ट्रासाउंड मशीन से 2 जांच की गई थी, जिसका कोई लेखा-जोखा मौजूद नहीं था। छापेमारी और सीलिंग की कार्रवाई कई घंटे तक अस्पताल में चलता रहा और दिल्ली से आये अधिकारी अपने कार्रवाई को पूरी तरह से गुप्त रखने का प्रयास कर रहे थे।

 

सीएमओ कार्यालय से इनके साथ आए हुए जिले के नोडल अधिकारी डॉ प्रगति कुमार का मोबाइल भी अपने पास रख लिया था। कार्यवाही के बाद जब टीम जाने लगी तो वाराणसी से इनके साथ आए डॉक्टर पी पी गुप्ता ने बताया कि पीएनडीटी योजना के तहत शिकायत मिली थी और इसी की जांच की गई है, जिसमें सीलिंग की कार्रवाई की गई है । इस दौरान उन्होंने भी माना कि अस्पताल मानक की धज्जियां उड़ाते हुए कार्य कर रहा है।

 

वहीं इस पूरी कार्रवाई के बाद अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. शादाब ने बताया कि इन लोगों ने बिना कुछ बताए छापेमारी की है, इन लोगों से कई बार नाम जानने और आई कार्ड देखने का प्रयास किया गया, लेकिन इन लोगों ने कोई भी अपना परिचय पत्र दिखाया नहीं और सीलिंग की कार्रवाई की, जिसका हमलोग अब जवाब देंगे।

 

BY- ALOK TRIPATHI

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned