सरकारी जमीन से हटाया गया अवैध अतिक्रमण, अब उठ रहे यह सवाल

मीडिया के माध्यम से अपील, सरकारी भूमि को किसी के बहकावे में न आकर खरीदें

By: Akhilesh Tripathi

Published: 03 Jan 2020, 02:29 PM IST

गाजीपुर. सदर कोतवाली इलाके के गोराबाजार इलाके के राज्य सरकार की जमीन पर अवैध अतिक्रमण को लेकर जिला प्रशासन की तरफ से बुल्डोजर चलाया गया। गोराबाजार का इलाका अंग्रेजों के समय में छावनी थी। जहां पर लोगों ने अवैध अतिक्रमण कर घर बना लिया गया है। कुछ जमीन की घेराबंदी कर कब्जा भी किया जा रहा है। यहां तक कि सरकारी भूमि पर अधिकारियों और कर्मचारियों की मिलीभगत से निजी स्कूल भी बना लिया गया है और शिक्षा विभाग की तरफ से उनको मान्यता भी दे दिया गया है।


सरकारी जमीन पर अवैध कब्जा की सूचना मिलते ही गुरूवार को मय फोर्स के साथ बुलडोजर लेकर मौके पर पहुचे नायब तहसीलदार आशीष सिंह ने अवैध रूप से निर्माण कराया गया बाउंड्रीवाल पर बुल्डोजर चलवा कर गिरवा दिया। इस दौरान नायब तहसीलदार ने बताया कि लोग सरकारी जमीन पर अवैध रूप से कब्जा कर रहे है। अवैध कब्जा की जानकारी मिली थी, कब्जा किये गए उन नव निर्माण कार्य को चिन्हित किया गया और उसके बाद इसे गिराया जा रहा है। इस दौरान मीडिया के माध्यम से अपील भी किया कि सरकारी भूमि को किसी के बहकावे में न आकर खरीदें। वहीं सूत्रों की माने तो गोराबाजार का तहरीबन 60 फीसदी से ज्यादा नुजूल भूमि है। इसके बावजूद अन्य लोग कैसे निर्माण कार्य कराया कर अपना घर बनवा लिए है। यहीं नही इस भूमि पर कई निजी विद्यालय बनवाकर चलाया जा रहा है।

सवाल ये उठता है कि सरकारी भूमि पर बने विद्यालयों को चलाने के लिए मान्यता कैसे मिल गई। कहीं न कही इस क्षेत्र में सरकारी भूमि को लेकर विभागीय अधिकारी व कर्मचारियों की मिलीभगत से पैसों का लंबा खेल खेला जा रहा है। सूत्रों की माने तो लोगों में चर्चा का ये भी विषय रहा कि जिला प्रशासन द्वारा चलाये गए बुलडोजर के पीछे सम्बंधित अधिकारियों और कर्मचारी को कराए जा रहे नव निर्माण के लिए पैसा नहीं मिला है, इसलिए ये बुलडोजर चलाया गया है।

BY- ALOK TRIPATHI

Akhilesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned