नितीश की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बोले,अखिलेश राज से ज्यादा क्राइम योगी सरकार में

नितीश की पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बोले,अखिलेश राज से ज्यादा क्राइम योगी सरकार में

Mohd Rafatuddin Faridi | Publish: Oct, 22 2017 06:22:51 PM (IST) Ghazipur, Uttar Pradesh, India

जदयू प्रदेश अध्यद्वा बोले, योगी राज में बढ़ा है क्राइम, कंट्रोल नहीं हुआ तो जनता माफ नहीं करेगी।

गाजीपुर. बिहार में जनता दल युनाइटेड और बीजेपी का गठबंधन है, नितीश कुमार इस गठबंधन के मुख्यमंत्री हैं बावजूद इसके उनकी पार्टी यूपी में बीजेपी की योगी सरकार को घेर रही है। जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि यूपी में कानून व्यवस्था बदतर है। लॉ एण्ड ऑर्डर में अभी तक कोई सुधार नहीं हुआ। कुछ महीनों में पिछली अखिलेश सरकार से भी ज्यादा क्राइम हुए हैं। अभी कानून व्यवस्था पर कंट्रोल उतना नहीं। अगर अपराध पर नियंत्रण न किया गया तो जनता माफ नहीं करेगी।


जनता दल युनाइटेड के प्रदेश अध्यक्ष आरपी चौधरी रविवार को निकाय चुनाव और पार्टी के विस्तार के लिये गाजीपुर पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत मे उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को कटघरे में खड़ा किया। उन्होंने सूब की कानून व्यवस्था को ध्वस्त बताया। कहा कि कानून व्यवस्था पहले से बदतर हुई है। हालत ये है कि पुलिस अब सही काम के लिये भी वसूली कर रही है। हालत ये है कि कुछ महीनों में तो अपराध का ग्राफ इतना बढ़ गया, जितना अखिलेश सकार में भी नहीं था।


उन्होंने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कह कि योगी सरकार में इधर कुछ महीनों में अखिलेश राज से भी ज्यादा क्राइम का ग्राफ बढ़ा है। अब घर का दरवाजा ऊंचा करने के लिये तालाब से मिट्टी लाने पर भी पुलिस ने वसूली शुरू कर दी है। पुलिस पर अभी तक ठीक से कंट्रोल नहीं हो पाया है, और कहीं-कहीं तो पुलिस का रवैया पहले से बदतर हुआ है। कहा कि मेरे आंकलन में तो यूपी में अपराध के ग्राफ में बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने यह भी जोड़ा कि, योगी जी से मेरी मुलाकात हुई तो मैं यही कहूंगा कि पहले कानून व्यवस्था को दुरुस्त करें। क्राइम कंट्रोल के लिये निष्पक्षता बहुत जरूरी है, पक्षपात से इस पर कंट्रोल नहीं किया जा सकता। इस दौरान गाजीपुर के करंडा में हुई आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि कभी कभी बड़े नहीं बल्कि छोटे अपराधी भी कानून व्यवस्था में खलल डालते हैं।

by ALOK TRIPATHI

 

Ad Block is Banned