गाजीपुर में 10 दिन से घर के अंदर कैद बुजुर्ग महिला हुई आजाद, पुलिस ने दीवाल तोड़कर निकाला

गाजीपुर में 10 दिन से घर के अंदर कैद बुजुर्ग महिला हुई आजाद, पुलिस ने दीवाल तोड़कर निकाला
घर के अंदर कैद बुजुर्ग महिला हुई आजाद

Akhilesh Kumar Tripathi | Publish: Jun, 24 2019 08:50:17 PM (IST) Ghazipur, Ghazipur, Uttar Pradesh, India

  • भारी फोर्स के साथ एसडीएम और सीओ खुद मौके पर पहुंचे, दीवाल गिराकर कराया मुक्त
  • दबंगों ने बुजुर्ग महिला के दरवाजे के सामने दीवाल उठाकर छप्पर डाल दिया था

 

गाजीपुर. यूपी में दबंगों ने एक बुजुर्ग महिला को 10 दिन तक घर में कैद रहने को मजबूर कर दिया। गाजीपुर के सेवराई तहसील के करवनिया डेरा में जमीन विवाद में दबंगों ने बुजुर्ग महिला के दरवाजे के सामने दीवाल खड़ी कर उस पर झोपड़ी डाल दिया, जिसके बाद महिला 10 दिनों तक घर में कैद हो गई । पत्रिका ने इस खबर को प्रमुखता से दिखाया, जिसके बाद रविवार को इस मामले में कार्रवाई की गई ।

 

एसडीएम विक्रम सिंह और जमानियां सीओ सहित छह थानों की फोर्स और राजस्व अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे, लोगों की मौजूदगी में महिला के दरवाजे के सामने उठाये गए दीवाल व छप्पर को गिरवा दिया गया, वही एसडीएम ने संबंधित के खिलाफ शांति भंग का मुकदमा पंजीकृत कर उसे जेल भेज दिया। घटना को लेकर गांव में अफरा-तफरी स्थिति बनी हुई है ।

 

यह भी पढ़ें:

घर के सामने दबंगों का कब्जा, परिवार का बाहर निकलना हुआ मुश्किल

 

 



बता दें कि सेवराई गांव के करवनिया डेरा निवासी शैलेंद्र बिद ने बीते 19 जून को एसडीएम को पत्रक सौंपकर पड़ोसी रोहित बिद के खिलाफ अपने दरवाजे के आगे दीवार व झोपड़ी डालकर आवागमन बंद करने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई थी। पीड़ित शैलेंद्र बिद के अनुसार दरवाजा बंद होने के कारण परिवार के लोग दूसरों के घर से लकड़ी के सीढ़ी के सहारे आते-जाते थे। वहीं पशु और उनकी 80 वर्ष बूढ़ी मां पिछले 10 दिनों से घर के अंदर ही बंद रहीं। हालांकि गुरुवार को बूढ़ी मां को सीढ़ी के सहारे बाहर निकाल लिया गया।

 

यह भी पढ़ें:

यूपी में शौचालय निर्माण में करोड़ों का घोटाला, जांच के नाम पर लीपापोती

 

 

मामले को गंभीरता से लेते हुए उपजिलाधिकारी विक्रम सिंह ने दोनों पक्षों को बुलाकर दीवार हटाते हुए प्रार्थना पत्र देने की बात कही थी। बावजूद इसके शनिवार तक दीवार नहीं हटाई गई। रविवार को एसडीएम ने क्षेत्राधिकारी जमानियां ने भारी फोर्स और राजस्व अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंच कर झोपड़ी व दीवार को गिरवा दिया। इस कार्रवाई के दौरान परिवार की महिलाएं शोर मचाती रहीं। जिन्हें महिला पुलिस कर्मियों ने डांट फटकार लगाकर शांत करवाया ।

 

BY- Alok Tripathi

यहां देखें वीडियो

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned