पुलिस ने दोहरे हत्याकांड का किया खुलासा, परिजन ही निकले बेटी और कांस्टेबल के कातिल

- आनर किलिंग में हुई थी कांस्टेबल और युवती की हत्या
- कांस्टेबल अजय यादव व सानिया सिंह 2018 में कर ली थी कोर्ट मैरिज

By: Neeraj Patel

Published: 25 Feb 2021, 06:37 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजीपुर. जिले के खानपुर थान इलाके में आनरकिलिंग के मामले में हुए दोहरे हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा किया है। मामले में पुलिस ने महिला समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर मीडिया के सामने पेश कर मामले का खुलासा किया है। साथ हत्या में प्रयुक्त 2 पिस्टल, जिंदा कारतूस और मृतक के चप्पल को प्रेमिका की डेडबॉडी के पास से बरामद किया है। दरअसल खानपुर थाना इलाके के रामपुर गांव के पास 22 फरवरी को एक कांस्टेबल को गोली मारकर खेत मे फेंक दिया गया था। घायल अवस्था में पड़े कांस्टेबल के पास दो पिस्टल भी मिले थे। इलाज के दौरान कांस्टेबल की मौत हो गई थी। मृतक कांस्टेबल अजय यादव के परिजनों द्वारा हत्या का मामला दर्ज कराया गया था। उसी दिन युवती के परिजन भी ऑनलाइन गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी थी। जिसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए युवती की खोजबीन में जुट गई। तलाश के दौरान पुलिस को युवती की लाश उसके ही घर के बाड़े में मिली।

पुलिस द्वारा घटना स्थल की जांच के दौरान युवती के शव के पास मृतक कांस्टेबल अजय यादव का चप्पल भी बरामद हुआ। पुलिस ने मृतक कस्टेबल का चप्पल युवती के शव के पास से मिलने पर मृतक युवती के परिजनों से पूछताछ शुरू कर दी। पूछताछ के दौरान पुलिस को ये भी पता चला कि मृतक कांस्टेबल अजय यादव और युवती का 2018 में कोर्ट मैरिज हो चुका है। पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ के दौरान दोहरे हत्या की गुत्थी सुलझ गई। फिलहाल मामले में युवती के परिजनों में पिता राजेश सिंह और माता के साथ अन्य 3 को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया।

बता दें कि 22 फरवरी को अमेठी के गौरीगंज में तैनात सिपाही अजय यादव अपने गांव गाजीपुर के खानपुर थाना क्षेत्र के रामपुर में खेत में लहूलुहान हालत में मिला था। उसके पास ही पुलिस को दो पिस्टल और एक मोबाइल भी मिला था। बाद में वाराणसी में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी थी। उसके अगले ही दिन उसकी प्रेमिका की लाश भी खानपुर थाना क्षेत्र के इचवल गांव से घर से सटे हुए एक खेत में मिली थी। उसकी प्रेमिका इसी गांव की रहने वाली थी।

पुलिस ने खुलासे में कहा यह

एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि दोनों की हत्या मृतका सानिया सिंह के परिजनों ने ही की थी। पुलिस ने मृतका के माता-पिता और भाई को गिरफ्तार किया है। मृतका के पिता राजेश सिंह ने जुर्म कुबूल करते हुए बताया कि करीब एक माह पूर्व उसे अपनी पत्नी द्वारा इस बात की जानकारी हुई कि उसकी पुत्री सानिया सिंह का सिपाही अजय कुमार यादव के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा है और दोनों ने 2 साल पहले कोर्ट मैरिज भी कर लिया है।

15 फरवरी को उसे पता चला कि अजय कुमार यादव छुट्टी पर आया हुआ है तो हमलोगों ने उसे बुलाकर मारने की योजना बनायी और 22 फरवरी को अपनी लड़की के मोबाइल से अजय के मोबाइल पर मिलने का मैसेज करवाया। उसके बाद लड़की को समझा रहा था पर वो नहीं मानी इसलिये उसे गोली मार दी। कुछ देर बाद अजय भी घर पर आ गया। उसे लेकर हमलोग रामपुर गये और एक स्कूल के पास ले जाकर उसे गोली मार दी। उसके बाद लड़की के मोबाइल को अजय की जेब मे डाल दिया और उसके हाथ में पिस्टल पकड़ा दिया। मामले में पुलिस ने राजेश सिंह, अंकित सिंह, दीपक सिंह, अवधराज सिंह और नीलम सिंह को गिरफ्तार किया है।

Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned