मुलायम सिंह यादव के संघर्षों के साथी को अखिलेश यादव ने दी बड़ी जिम्मेदारी

बीपी सरकार के दौरान मुलायम सिंह यादव के साथ लखनऊ में पिछड़ी जाति के आरक्षण को लेकर धरना प्रदर्शन में दिया था साथ

गाजीपुर. 1977 से मुलायम सिंह यादव व समाजवादी पार्टी से जुड़े रामधारी यादव को सपा ने तीसरी बार समाजवादी पार्टी का जिलाध्यक्ष बनाया है। रामधारी यादव के जिलाध्यक्ष बनाये जाने पर सपा कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। समाजवादी कार्यकर्ता जिले के पार्टी कार्यालय समता भवन पर रामधारी यादव का मुंह मीठा कराया और पार्टी का जमकर नारे लगे। इस दौरान रामधारी यादव को फोन से भी लोग बधाइयां दे रहे थे। रामधारी यादव जिले के वरिष्ठ समाजवादी कार्यकर्ताओं में गिना जाता है।

बता दें रामधारी यादव इससे पूर्व भी 2007 और 2014 में सपा के जिलाध्यक्ष रह चुके हैं। वर्तमान में सपा के जिला अध्यक्ष नन्हकू यादव थे, जिनकी जगह रामधारी यादव को जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया है। रामधारी यादव 1977 से समाजवादी पार्टी से जुड़े हुए है और मुलायम सिंह यादव के संघर्षों के साथी भी रहे है। बातचीत के दौरान रामधारी यादव ने बताया कि सपा में युवा कार्यकर्ता के रूप में जुड़ा और ग़ाज़ीपुर के गांधी कहे जाने वाले स्व.रामकरण यादव उर्फ दादा के साथ जुड़ कर काम किया। बीपी सरकार के दौरान नेता जी यानी मुलायम सिंह यादव के साथ लखनऊ में पिछड़ी जाति के आरक्षण को लेकर धरना प्रदर्शन किया गया था। उस दौरान पुलिस द्वारा नेता जी के साथ हम लोगों को पुलिस लाइन में रखा गया था। आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जिलाध्यक्ष बना कर हम पर विश्वास किया है और उस विश्वास को टूटने नहीं दिया जाएगा। पार्टी और कार्यकर्ताओं ने मेरे ऊपर भरोसा किया है और मेरे कोशिश होगी कि उनके भरोसे को कायम रखूं ।

BY- ALOK TRIPATHI

Akhilesh Tripathi Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned