अगर आपने अभी तक भी नहीं बनवाया है शौचालय तो यह खबर आपके लिए

Varanasi Uttar Pradesh

Publish: Sep, 16 2017 06:28:43 (IST)

Ghazipur, Uttar Pradesh, India
अगर आपने अभी तक भी नहीं बनवाया है शौचालय तो यह खबर आपके लिए

31 दिसंबर 2017 तक नहीं बना शौचालय तो होगा भारी नुकसान

गाजीपुर. उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार, स्वच्छता को लेकर गंभीर बनी हुई है और गांव को शौच मुक्त करने के लिए करोड़ों रुपए का बजट दे रही है। बावजूद इसके प्रशासनिक लापरवाही या फिर ग्रामीणों की उदासीनता के चलते आज भी बहुत सारे गांव में लोगों के पास अपना शौचालय नहीं है। इसी को देखते हुए 15 सितंबर से दो अक्टूबर तक स्वच्छता सेवा कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में शनिवार को गाजीपुर जिले में भी स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन हुआ, जिसमें जिला पंचायत राज अधिकारी लालजी दूबे ने कहा कि 31 दिसंबर 2017 तक जिसने भी शौचालय नहीं बनवाया और खुले में शौच करेगा तो उसकी सभी सरकारी सुविधाएं बंद कर दी जाएंगी। साथ ही खुले में शौच करने को अपराधिक कृत्य माना जाएगा।

 

 

बीजेपी विधायक संगीता बलवंत ने अपने सदर विधानसभ क्षेत्र के बकरा बाद गांव को स्वच्छता से सेवा योजना के तहत पहला गांव चयनिय किया। इसी के तहत शनिवार को बकरा बाद गांव मंे शनिवार को स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में उन्होंने गांव को खुले में शौच मुक्त कराने के लिए सभी ग्रामवासियों को शपथ दिलाई। साथ ही उन्होंने लोगों से गांव को स्वच्छ रखने की अपील की। वहीं, महिलाओं का कहना था कि जब हम खुले में शौच जाते हैं तो हमें खुद ही शर्म आती है। ऐसे में अगर हमारा शौचालय बन जाएगा तो यह हम लोगों के लिए एक बड़ी कामयाबी होगी। बता दें कि जनपद गाजीपुर के सदर विधानसभा के बकरा बाद गांव में करीब 300 परिवार रहते हैं। इन सभी परिवारों के पास अपना शौचालय नहीं है, जिसके चलते यह लोग गांव की पगडंडियों पर शौच करने को मजबूर हैं।

 

 

यह भी पढ़ें- जिले में 75 हजार किसानों का माफ किया गया कर्ज, 20 सितंबर से चलेगी नई ट्रेन- मनोज सिन्हा

 

कार्यक्रम के दौरान मुख्य विकास अधिकारी और जिला पंचायत राज अधिकारी ने दो दिन बाद गांव के करीब 300 से अधिक परिवारों को शौचालय की सौगात देने की बात कही। उन्होंने बताया कि गांव में करीब 40 से 50 राजमिस्त्री रहते हैं, उन सभी को प्रशिक्षण देकर गांव वालों के शौचालय बनाने में मदद ली जाएगी। साथ ही कहा कि इन राज मिस्त्रियों को उत्तर प्रदेश सरकार की योजना के अनुसार रजिस्ट्रेशन करा कर इन्हें मिलने वाली सरकारी सुविधा भी दी जाएगी।

 

यह भी पढ़ें- आखिर क्यों मनोज सिन्हा को देनी पड़ी पत्रकारों को नसीहत, कहा- नकारात्मक नहीं सकारात्मक लिखें

 

कार्यक्रम के बाद जिला पंचायत राज अधिकारी लालजी दूबे ने बताया कि इस गांव के लिए करीब 300 शौचालय बनवाने की योजना है। इसके लिए प्रति शौचालय 12 हजार रूपये ग्रामीणों के खाते में भेजा जाएगा, जो एक सहयोग राशि है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अपने श्रम का प्रयोग कर अपने शौचालयों को बनवाएंगे। डीपीआरओ ने बताया कि यह योजना पूरे जनपद के लिए चल रही है। इसके बाद भी अगर दिसंबर 2017 तक जो लोग शौचालय नहीं बनवाएंगे और खुले में शौच करेंगे तो उनकी सरकारी सुविधा जैसे पेंशन, राशन कार्ड, सब्सिडी सहित अन्य सुविधाएं भी रोक दी जाएंगी। साथ ही उन्होंने कहा कि खुले में शौच करना अपराधिक कृत्य भी माना जाएगा, जिसके तहत उनके खिलाफ कार्रवाई भी होगी।

By Alok Tripathi 

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned