एकादशी पर्व पर गंगा स्नान करने गये एक ही परिवार के तीन लोगों की डूबने से मौत

 एकादशी पर्व पर गंगा स्नान करने गये एक ही परिवार के तीन लोगों की डूबने से मौत
Ganga river

मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के शेरपुर कला गांव का मामला

गाजीपुर. मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के शेरपुर कला गांव में गंगा स्नान करने गये तीन की डूबने से मौत हो गई, जबकि एक महिला को किसी तरह बचा लिया गया। महिला अपने बच्चों के साथ एकादशी पर्व पर गंगा स्नान करने गई थी। हादसे में महिला के दो बच्चों की मौत हो गई। वहीं घटना के बाद गांव में सन्नाटा पसरा है। 

यह भी पढ़ें:
सपा सरकार की राह पर चली बीजेपी सरकार, योगी के मंत्री के भाई ने सरकारी कर्मचारी को पीटा, जान से मारने की धमकी

जानकारी के मुताबिक गांव के मन्नू गुप्ता की पत्नी दीपा एकादशी पर अपने पुत्र मोहित(17) तथा पुत्री बेबी(16) और बहन के पुत्र टुकटुक(18) के साथ गंगा स्नान करने गई थी। उसी बीच टुकटुक डूबने लगा, उसे बचाने की कोशिश में मोहित उसके करीब पहुंचा। तब टुकटुक उसे जकड़ लिया और दोनों डूबने लगे। यह देख बेबी उन्हें बचाने के लिए बढ़ी लेकिन वह भी पानी में फंस गई। अपनी आंखों के सामने संतानों को डूबते देख मां दीपा खुद को रोक नहीं पाई। वह तीनों को बचाने आई, लेकिन वह भी गहरे पानी में समाने लगी। संयोग से मौके पर मौजूद गांव के मकनू यादव तथा सुघर चौधरी किसी तरह दीपा का बाल खींच कर उसे सुरक्षित बाहर निकाला गया, लेकिन अन्य तीन गहरे पानी में समा गए।

ganga river


घटना के बाद तो गांव में कोहराम मच गया। सैकड़ों लोग घाट पर जुट गए। गांव के मल्लाहों ने मशक्कत कर तीनों शवों को बाहर निकाला। टुकटुक बिहार के आरा शहर के स्व. अशोक गुप्त का पुत्र था और वह अपनी मां-पिता की इकलौती संतान था। वह गर्मी की छुट्टी बिताने के लिए अपनी मौसी दीपा के घर आया था। इसी तरह मन्नू- दीपा को भी मोहित तथा बेबी के सिवाय और कोई संतान नहीं है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned